राज्‍यसभा में UAPA संशोधन विधेयक हुआ पारित, अब सिर्फ शक पर आतंकी घोषित करना हुआ संभव

0
156

अब भारत सरकार को आतंकवाद के खिलाफ लगाम लगाने वाली की गई सभी कोशिशों में बड़ी जीत हासिल हुई है| बता दें कि, लोकसभा में UAPA संशोधन बिल पहली ही पास कर दिया गया था| वहीं अब राज्‍यसभा में भी UAPA संशोधन बिल पास हो गया है| पक्ष में 147 और विपक्ष में 42 वोटों कमतदान हुआ है| पास हुए इस बिल में राष्‍ट्रीय जांच एजेंसी को और शक्तिशाली बनाए जाने का प्रावधान रखा गया है|

Advertisement

इसे भी पढ़े: ट्रैफिक रूल्स तोड़ने पर अब लगेगा भारी जुर्माना, जानिए मोटर वाहन बिल से जुड़ी अहम बातें

वहीं बिल पर चर्चा का जवाब देते हुए अमित शाह ने कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए कहा कि, निजी स्‍वार्थ के लिए कानून के दुरुपयोग का कांग्रेसी इतिहास सभी जानते हैं| इसी के साथ कहा कि, अभी तक कमजोर कानून की वजह से देशद्रोहियों को सजा नहीं मिली| उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस इसके दुरुपयोग की बात नहीं करे क्‍योंकि आपातकाल में क्या किया गया? जरा अपना अतीत देख लीजिए|

अमित शाह ने कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह की दलीलों पर तंज कसते हुए कि, वह अभी-अभी चुनाव हारकर आये हैं, तो उनका गुस्सा स्वाभाविक है| इसी के साथ कहा कि, समझौता एक्सप्रेस में आरोपी पकड़े गए, फिर उन्हें छोड़ दिया गया| धर्म विशेष और नकली मामला बनाकर एक धर्म विशेष के लोगों को टारगेट करके पकड़ा गया क्‍योंकि चुनाव नजदीक था| 

जानकारी देते हुए बता दें कि, इससे पहले दिग्विजय सिंह ने सरकार की नीयत पर शक व्यक्त करते हुए कहा था कि, जब से आपकी सरकार आई है, तब से NIA के काम में फर्क हो गया है|

इसे भी पढ़े: ऊर्जा मंत्री नें कहा – प्रदेश में अब उपभोक्ताओं को हिंदी में मिलेगा बिजली का बिल

Advertisement