2 अक्टूबर को क्यों मनाई जाती है गांधी जयंती, जानिए महात्मा गाँधी से जुड़ी रोचक बातें

Mahatma Gandhi Jayanti: हर साल पूरे देश में 2 अक्टूबर को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती बहुत ही धूमधाम के साथ मनाई जाती है| बापू के इस जन्मदिन के मौके पर देश भरके सभी स्कूलों और दफ्तरों में तरह-तरह के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है| बता दें कि, बापू का पूरा नाम मोहनदास करमचन्द गांधी था| जिन्होंने अहिंसा आंदोलन के दम पर देश को आजादी  दिलाई थी| बापू जी को  देश की आजादी के लिए कई बार जेल भी जाना पड़ा था| 

इसे भी पढ़े: 2 अक्टूबर गाँधी जयंती के लिए निबन्ध, भाषण, हिंदी में कोट्स

गांधी जी का जन्म 2 अक्टूबर 1869 को गुजरात के पोरबंदर में हुआ था| वो कानून की पढ़ाई करने के लिए और बैरिस्टर बनने के लिए लन्दन गए गए थे| फिर उन्होंने लंदन में पढ़ाई कर बैरिस्टर की डिग्री हासिल की| जब गांधी जी भारत वापस आए तो देश की स्थिति ने उन्हें बहुत प्रभावित किया| जिसके बाद उन्होंने देश की स्वतंत्रता के लिए लंबी लड़ाई लड़ी| गांधी जी के प्रयासों के चलते ही आज हमारा देश स्वतंत्र है|

2 अक्टूबर को क्यों मनाई जाती है- गाँधी जयंती

 बता दें कि, 2 अक्टूबर के दिन ही गांधी जी का जन्म हुआ था| इसके साथ ही इस दिन को विश्व अहिंसा दिवस के रूप में भी मनाया जाता है| आज भी पूरे देश में गांधी जी अहिंसात्मक आंदोलन के लिए जाने जाते हैं और यह दिवस उनके प्रति वैश्विक स्तर पर सम्मान देने के  लिए बड़ी ही धूमधाम के साथ मनाया जाता है| गांधी जी कहते थे कि, अहिंसा एक दर्शन है, एक सिद्धांत है और एक अनुभव है, जिसके आधार पर समाज का बेहतर निर्माण करना संभव है|’

 ऐसे मनाई जाती है- गांधी जयंती

2 अक्टूबर को गांधी जयंती के मौके पर लोग राजघाट नई दिल्ली में गांधी प्रतिमा के सामने श्रद्धांजलि देते हैं|  इस दिन राष्ट्रीय अवकाश रहता है| महात्मा गांधी की समाधि पर राष्ट्रपति और भारत के प्रधानमंत्री की उपस्थिति में प्रार्थना का आयोजन किया जाता है| इसके साथ ही सभी स्‍कूलों और दफ्तरों में गांधी जयंती का उत्सव बहुत ही धूमधाम के साथ होता है|

महात्मा गांधी से जुड़ी 5 महत्वपूर्ण बाते 

1. महात्मा गांधी ने लंदन में कानून की पढ़ाई और बैरिस्टर की डिग्री हासिल की थी, लेकिन उन्होंने मुंबई में उच्च न्यायालय में हुई पहली बहस में सफलता हासिल करने में नाकाम रहे थे| 

2.दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल कंपनियों में से एक एप्पल के संस्थापक स्टीव जॉब्स गांधी जी को सम्मान देने के लिए खुद ही उनके जैसा गोल चश्मा पहनते थे| 

3.भारत में छोटी सड़कों को छोड़कर महात्मा गांधी के नाम पर 50 से भी अधिक सड़को का निर्माण किया गया है| साथ ही गांधी जी के नाम पर विदेशों में भी लगभग 60 सड़के बनी हुई है|

4. महात्मा गांधी को 5 बार नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया जा गया है|

5. गाँधी जी प्रतिदिन लगभग 18 किलोमीटर पद-यात्रा करते थे|

इसे भी पढ़े: लाल बहादुर शास्त्री के जन्मदिन पर भाषण, कोट्स, निबंध