असदुद्दीन ओवैसी ने केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद पर किया पलटवार, जानिए क्या कहा

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के दिए गये बयान पर पलटवार किया है, उन्होंने रविशंकर प्रसाद के उस बयान को लेकर उनपर हमला बोला जिसमें उन्होंने कहा था, कि बीजेपी ने हिंदू देवी-देवताओं की तस्वीरों के साथ संविधान का प्रकाशन किया होता तो हल्ला मच जाता|

ये भी पढ़े: असदुद्दीन ओवैसी ने पीएम मोदी के ‘गाय’ और ‘ऊँ’ वाले बयान पर किया पलटवार, जानिए- क्या कहा

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ”सर आप कानून मंत्री हैं, कम से कम आपको हमारा संविधान खोल कर देखना चाहिए था, कि हमारे संविधान का मसौदा तैयार करने वालों ने हमारी विविधता का जश्न मनाया था| सिर्फ हिंदू देवता ही नहीं, बल्कि टीपू सुल्तान, शिवाजी, अकबर, गुरु गोविंद सिंह और गांधीजी का भी चित्रण किया गया था|”

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुधवार को बीजेपी की नगर इकाई की ओर से आयोजित कार्यक्रम ‘राष्ट्रीय एकता मिशन’ को संबोधित कर रहे थे, जिसमें उन्होंने कहा था, कि अगर बीजेपी ने हिंदू देवी-देवताओं की तस्वीरों के साथ संविधान का प्रकाशन किया होता, तो चीख-पुकार मच जाती लेकिन 1950 में इसे अनुचित नहीं माना गया|

केंद्रीय मंत्री नें कहा, मान लीजिए अगर आज हम संविधान का प्रारूप तैयार करते और इन तस्वीरों को उस पर चित्रित करते, तो चीख-पुकार मच जाती और यह कहा जाता कि, भारत हिंदू राष्ट्र बन रहा है और धर्मनिरपेक्षता को खत्म किया जा रहा है| प्रसाद ने कहा, ”हमारे संविधान निर्माताओं ने देश को धर्मनिरपेक्ष नहीं कहा, क्योंकि वे जानते थे कि देश की आत्मा धर्मनिरपेक्ष है| जैसे ऋग्वेद कहता है, कि सत्य एक है लेकिन विद्वान उसे अलग-अलग तरीके से परिभाषित करते हैं.”

ये भी पढ़े:  केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने POK को लेकर कही ये बड़ी बात, यहाँ पढ़े पूरी खबर