बिहार बोर्ड रिजल्ट 2019 : इंटर बोर्ड परीक्षा में असफल होने या नंबर कम आने से हताश न हों स्टूडेंट्स, क्या कहते है एक्सपर्ट्स

0
591

Bihar board 12th result 2019 : जानकारी देते हुए बता दें, कि 30 मार्च को बिहार बोर्ड इंटरमीडिएट रिजल्ट जारी कर दिए गये थे| वहीं इस परीक्षा में असफल व कम अंक प्राप्त करनें वाले परीक्षार्थी बिल्कुल भी हताश न हों| उन छात्रों को हताश होने के बजाय आगे बढ़ने की जरूरत हैं|

Advertisement

इसके अतिरिक्त जो अभ्यर्थी इस परीक्षा में असफल होनें वाले विद्यार्थी कंपार्टमेंटल या अगले वर्ष दोबारा परीक्षा देकर जीवन में आगे कदम रख सकते हैं, और यदि किसी अभ्यर्थी ने इस परीक्षा में कम अंक प्राप्त किये हैं, वो बोर्ड की तरफ से घोषित तारीख पर स्क्रूटिनी के लिए आवेदन भी कर सकते हैं। वहीं एक्सपर्ट की सलाह भी पढ़े –

यह भी पढ़े:UPSC ने NDA के ऐडमिट कार्ड किये जारी, डायरेक्ट लिंक से करे डाउनलोड यहाँ से

मनोचिकित्सक डॉ. मनीष कुमार ने कहा है, कि असफल या कम अंक लाने वाले अभ्यर्थियों के माता पिता बच्चे के साथ अच्छा व्यवहार करे| अभ्यर्थी के माता-पिता रिजल्ट के बारे में बच्चों के साथ खुलकर बात करें। वहीं बच्चों को सलाह देते हुए उन्होंने बताया, कि असफल या कम अंक प्राप्त करने वाले अभ्यर्थी किसी प्रकार की उलझन न करते हुए आगे के कॅरियर पर विशेष ध्यान दें।

इसके साथ ही मनोवैज्ञानिकों ने यह भी बताया, कि अभ्यर्थी इंटर बोर्ड में नंबर कम आने से बिलकुल भी हताश न हों। कम नंबर पर चिंता व हताशा की बजाए आगे की ओर देखें |बोर्ड के रिजल्ट में नंबर कम या असफल होने पर अभिभावक व फैमिली का सपोर्ट बच्चों के लिए बहुत आवश्यक होता है।

यह भी पढ़े: NIOS D.El.Ed Result 2018 3rd Semester: परिणाम हुए जारी, आप यहां देखें सारी डिटेल्स

Advertisement