ज्ञानपीठ अवार्डी और मशहूर अभिनेता गिरीश कर्नाड का निधन

देश के मशहूर लेखक, नाटककार, अभिनेता और फिल्म निर्देशक गिरीश कर्नाड का आज सोमवार को  81 साल की उम्र में निधन हो गया है| वह काफी समय से बीमार चल रहे थे| 1998 में ज्ञानपीठ पुरस्कार के अलावा गिरीश कर्नाड पद्मश्री और पद्मभूषण से भी सम्मानित किया गया था, उन्हें कन्नड़ फ़िल्म ‘संस्कार’ के लिए सर्वश्रेष्ठ निर्देशक का राष्ट्रीय पुरस्कार भी दिया गया था| मीडिया से प्राप्त जानकारी के अनुसार, गिरीश कर्नाड का निधन उनके बेंगलुरु स्थित घर पर हुआ है ।

ये भी पढ़े: Passport Online Renew करने के लिए यह है प्रक्रिया, ऐसे करे Step By Step

गिरीश कार्नाड देश के प्रसिद्द लेखक, अभिनेता, फ़िल्म निर्देशक और नाटककार थे। वह कन्नड़ और अंग्रेजी दोनों भाषाओ के जानकार थे। इन्हें वर्ष 1998 में ज्ञानपीठ सहित पद्मश्री व पद्मभूषण जैसे कई प्रतिष्ठित पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है। कार्नाड द्वारा रचित तुगलक, हयवदन, तलेदंड, नागमंडल व ययाति जैसे नाटक काफी लोकप्रिय हुये और भारत की अनेकों भाषाओं में इनका अनुवाद व मंचन हुआ है।

गिरीश कार्नाड का जन्म 19 मई, 1938 को माथेरान, महाराष्ट्र में हुआ था। गिरीश कार्नाड ने सबसे अधिक प्रसिद्धि एक नाटककार के रूप में प्राप्त की, उन्‍होंने ‘वंशवृक्ष’ नामक कन्नड़ फिल्म से निर्देशन के क्षेत्र कदम रखा था, इसके बाद इन्होंने कई कन्नड़ तथा हिन्दी फिल्मों का निर्देशन और अभिनय किया|

ये भी पढ़े: गज़ब का है 816 करोड़ में बना यूपी पुलिस का मुख्यालय, हेलीकॉप्टर लैंडिंग समेत है अन्य हाईटेक सुविधाए