अब तक 9 बार बजट पेश कर चुके हैं कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम जानिए इनके बारे में ख़ास फैक्ट

0
125

आज़ादी के बाद स्वतंत्र भारत का पहला केंद्रीय बजट 26 नवंबर 1947 को भूतपूर्व वित्त मंत्री आरके शानमुखम चेट्टी की तरफ से पेश किया गया था| भूतपूर्व प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री मोरारजी देसाई का नाम संसद में सबसे अधिक बजट पेश करने का रिकार्ड है, उन्होंने 10 बार केंद्रीय बजट संसद में पेश किया, जबकि दूसरे नंबर पर पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम का नाम आता है, जो नौ बार संसद में बजट पेश कर चुके हैं| पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी अपने वित्त मंत्री बनने के दौरान आठ बार संसद में बजट पेश कर चुके हैं|

Advertisement

पी. चिदंबरम कांग्रेस के काफी वरिष्ठ और अनुभवी राजनेता होनें के साथ-साथ वर्तमान में वह राज्यसभा से सांसद हैं। पी. चिदंबरम का जन्म 16 सितंबर, 1945 को तमिलनाडु के गांव कनाडुकथन में हुआ था। उनका पूरा नाम पलानीअप्पन चिदंबरम है। चिदंबरम ने प्रारंभिक शिक्षा मद्रास क्रिश्चियन सेकेंडरी स्कूल, चेन्नई से प्राप्त की, उन्‍होंने चेन्नई के प्रेसिडेंसी कॉलेज से विज्ञान में सांख्यिकी विषय के साथ स्नातक की डिग्री तथा बोस्टन के हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से बिजनेस मैनेजमेंट में मास्‍टर डिग्री प्राप्त की है ।

वर्ष 1972 में पी. चिदंबरम ने अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की सदस्यता ग्रहण की थी, तथा  वर्ष 1984 में तमिलनाडु के शिवगंगा निर्वाचन क्षेत्र से लोकसभा चुनाव जीतने के साथ पी. चिदंबरम सक्रिय राजनीति में आए । इस सीट से उन्होंने लगातार 6 बार विजय प्राप्त की। पी. चिदंबरम को वर्ष 1986 में लोक-शिकायत व पेंशन मंत्रालय के साथ कार्मिक मंत्रालय में भी मंत्री प्राप्त हुआ, इन्होनें अपनें  लंबे राजनीतिक करियर में वित्त और गृह जैसे मंत्रालय का कार्य कुशलता पूर्वक किया है।

मनमोहन सरकार के अंतर्गत वर्ष 2004 में पी. चिदंबरम को पुनः वित्त-मंत्रालय सौंपा गया, वह इस पद पर वह 2008 तक रहे। वर्ष  2008 में मुंबई आतंकी हमले के बाद तत्कालीन गृहमंत्री शिवराज पाटिल के इस्तीफा दिए जाने के बाद पी. चिदंबरम को गृहमंत्री बनाया गया। वर्ष 2012 में प्रणब मुखर्जी के राष्ट्रपति बनने के बाद उन्हें पुनःवित्त मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई थी, इस प्रकार वह अब तक 9 बार बजट पेश कर चुके हैं|

Advertisement