राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री सहित इन नेताओं ने ISRO को उसकी उपलब्धि के लिए दी बधाई

भारत के साथ-साथ अन्य देश बड़ी ही बेसब्री से लैंडर विक्रम के चांद की धरती को चूमने और खुशी में झूमने का इंतजार कर रहे थे, दुर्भाग्यवश ऐसा नहीं हुआ, लेकिन यह भारत और इसरो की असफलता नहीं है, क्योंकि स्पेस साइंस में भारत ने चंद्रयान-2 के माध्यम से एक नया इतिहास रचा है। चांद पर उतर रहे लैंडर विक्रम से भले ही संपर्क टूट गया, लेकिन सवा अरब भारतीयों की उम्मीदें नहीं टूटी हैं। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी सहित अनेक नेताओं ने इसरो से कहा कि, “देश को उन पर गर्व है|’

ये भी पढ़े: चंद्रयान 2 मिशन पर ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, कहा- ये आर्थिक मंदी से ध्यान भटकाने की कोशिश

चंद्रमा की सतह से रात लगभग 1.51 बजे 2.1 किमी दूर इसरो का लैंडर विक्रम से संपर्क टूट गया,परन्तु ऑर्बिटर से अब भी इसरो को और भी उम्मीदें हैं। शायद यही कारण है, कि इसरो पहले से ही अंतिम 15 मिनट को बेहद खतरनाक और महत्वपूर्ण मान रहा था। चंद्रयान-2 मिशन को पूरी तरह से फेल नहीं कहा जा सकता है, इसलिए भारत की इस स्पेस एजेंसी को तमाम लोग बधाई दे रहे हैं। सभी ने कहा, कि आपकी उपलब्धियों पर हमें गर्व है।

राष्ट्रपति ने कहा हमें गर्व है

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कहाना है, कि चंद्रयान-2 मिशन को लेकर इसरो की टीम ने अनुकरणीय प्रतिबद्धता और साहस का प्रदर्शन किया। राष्ट्रपति ने ट्वीट में लिखा- ‘देश को इसरो पर गर्व है। हम सभी बेहतर की उम्मीद करते हैं।’

प्रधानमंत्री मोदी ने इस तरह बढ़ाया हौसला

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ISRO वैज्ञानिकों का हौसला बढ़ाया है। उन्होंने कहा, आपने बहुत अच्छा काम किया है। जीवन में उतार-चढ़ाव आते रहते हैं और यह यात्रा जारी रहेगी। पीएम मोदी ने कहा, ‘जब मिशन बड़ा होता है तो निराशा से पार पाने की हिम्मत होनी चाहिए. मेरी तरफ से आप सभी को बहुत बधाई है। आपने देश की मानव जाति की बड़ी सेवा की है।’

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने इस तरह की हौसला अफजाई

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भी ISRO के वैज्ञानिकों को बधाई दी है। उन्होंने कहा, इसरो की कोशिशों से हर भारतीय गौरवान्वित है। लैंडर Vikram का ISRO केंद्र से संपर्क टूटने के कुछ ही मिनट बाद अमित शाह ने ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, ‘चंद्रयान-2 को लेकर अभी तक की इसरो की उपलब्धि पर प्रत्येक भारतीय को गर्व है।’ उन्होंने कहा, ‘भारत हमारे प्रतिबद्ध और कठिन मेहनत करने वाले इसरो के वैज्ञानिकों के साथ है। भविष्य की यात्रा के लिए मेरी शुभकामनाएं।’

पूर्व मुख्यमंत्री सुश्री मायावती ने किया ट्वीट   

मायावती ने चंद्रयान 2 को लेकर ट्वीट करते हुए लिखा, ‘चाँद पर कदम रखने के लिए चन्द्रयान-2 मिशन ने समस्त भारतीय जनमानस को रोमांचित किया है। इस सम्बंध में भारतीय वैज्ञानिकों खासकर ‘इसरो’ के वैज्ञानिकों ने अबतक जो भी सफलता प्राप्त की है वह गर्व करने लायक है व उसकी सराहना की जानी चाहिए।

ये भी पढ़े:  भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो ने जारी की चंद्रयान-2 से ली गई चंद्रमा की पहली तस्वीर