Makar sankranti 2019 : मकर संक्रांति कब है 14 या 15 जनवरी को, देखे मूहूर्त और तिथि

0
176

इस वर्ष मकर संक्रांति के त्योहार से सम्बंधित तिथि को लेकर लोगो में बड़ी असमंजस की स्थिति बनी हुई है |  प्रति वर्ष यह त्योहार 14 जनवरी को मनाया जाता है, परन्तु इस वर्ष यह पर्व 15 जनवरी को मनाया जाएगा, दरअसल, 15 जनवरी को सूर्योदय काल में सूर्य देव मकर राशि में स्थित होंगे, जिससे शास्त्रानुसार उदयकालीन तिथि की मान्यता के अनुसार 15 जनवरी को सूर्योदय से दोपहर तक स्नान, दान किया जाना पुण्यकारी होगा।

Advertisement

कब है, मकर संक्रांति

पं. जयगोविंद शास्त्री जो कि धार्मिक और ज्योतिष के विख्यात जानकर माने जाते हैं, उनके अनुसार इस बार मकर संक्रांति का यह पर्व 15 जनवरी को ही मनाया जाएगा | इस बार लोगों को भ्रमित होने की जरूरत नहीं हैं| इस बार सूर्य का मकर राशि में प्रवेश 14 जनवरी की शाम 7 बजकर 50 मिनट पर हो रहा है। शास्त्रों के नियम के अनुसार, रात में संक्रांति लगने से अगले दिन संक्रांति मनाई जाती है। जनवरी में मकर संक्रांति 14 को नहीं पहुँच रही है, इसलिए मकर संक्रांति 15 जनवरी को मनाई जाएगी। 

स्नान,दान,पुन्य के लिए शुभ

ज्योतिषियों केअनुसार, इस वर्ष पौष माह के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि पर 14 जनवरी सोमवार को रेवती नक्षत्र में संक्रांति शाम से लगने जा रही है, इसलिए यह 15 जनवरी को मनाई जायेगी | इसके साथ ही इस बार अमृत सिद्धि, सर्वार्थ सिद्धि , मंगलाव्श्रिनी अमृतसिद्धि योग व राजप्रद का संयोग बन रहा है | यह संयोग स्नान,दान और पुन्य के लिए बहुत अधिक मंगलमय रहेगा |

मकर संक्रांति के पुण्यकाल का मूहूर्त 

मकर संक्रांति लगने से 6 घंटे पहले और बाद तक पुण्यकाल चलता है इसलिए 14 जनवरी को  1 बजकर 26 मिनट से संक्रांति का स्नान दान शुरू हो जाएगा और 15 जनवरी को पूरे दिन स्नान दान किया जा सकेगा |

मकर संक्रांति दान से सम्बंधित जानकारी

मकर संक्रांति के दिन ख़ासकर दान करना जरुरी होता है, ऐसा कहा जाता है, कि इस दिन दान का महत्व अलग ही होता है| संक्रांति के दिन किया गया दान लोक- परलोक दोनों में ही सुख – समृद्धि प्रदान करता है | अधिकतर लोग संक्रांति के दिन अपनी श्रद्धा के अनुसार दान करते हैं | इस दिन आप ऊनी वस्त्र, आभूषण, कम्बल या फिर अन्न दान भी कर सकते हैं |

संक्रांति का इन राशियों पर पड़ेगा प्रभाव

मकर राशि में इस समय केतु विराजमान है, जबकि मकर राशि में सूर्य का प्रवेश काफी शुभ रहेगा | मकर राशि वाले लोगों को सूर्य का प्रवेश होने से काफी अच्छे संकेत मिल सकते है | सूर्य का मकर राशि में आने से जिन लोगों की राशि मिथुन,तुला और कुम्भ हैं उन लोगों को कष्ट का सामना करना पड़ सकता है | इसके साथ ही जिन लोगों की तुला राशि हैं, उन लोगों को संपति और भवन का लाभ मिलने की संभवना है, और धनु राशि वालों को गत माह से प्रभावित समस्याओ से निजात मिल सकती है | वहीं कुम्भ राशि वाले लोग मकर संक्रांति के दिन सूर्यदेव को प्रसन्न रखें, ताकि उन्हें आने वाले कष्ट को अधिक समय तक न झेलना पड़े |

Advertisement