1 अप्रैल से लागू होने वाली इस स्कीम से, कारों पर मिलेगी 1.5 लाख तक की सब्सिडी

यदि आप भी इलेक्ट्रिक कार खरीदने का मन बना रहे हैं, तो आपके लिए एक खुशखबरी है, क्योंकि सरकार अब इलेक्ट्रिक कारों पर 1.5 लाख रुपये तक की सब्सिडी देने जा रही है। 1 अप्रैल 2019 से भारत सरकार की फेम-2 (फास्टर एडॉप्शन एंड मैन्युफैक्चरिंग ऑफ हाइब्रिड एंड इलेक्ट्रिक व्हीकल्स) स्कीम देश में लागू की जा रही है|

फेम-2 स्कीम के अंतर्गत  10,000 करोड़ रुपये की राशि निर्धारित की गई है, जिसे इलेक्ट्रिक कार, हाइब्रिड कार, इलेक्ट्रिक बस, इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर और ई-रिक्शा वाहनों में विभाजित कर दिया गया है| 

यह भी पढ़े: एक सवाल का आनंद महिंद्रा ने दिया जवाब- इलेक्ट्रिक है शॉक देती है – क्या था सवाल आप भी देखे

cardekho.com के अनुसार, फेम-2 स्कीम के अंतर्गत  15 लाख तक की कीमत वाली 35,000 इलेक्ट्रिक कारों पर 1.5 लाख रुपये तक की सब्सिडी राशि मिलेगी | इसके पहले फेम-1 स्कीम के तहत ये राशि अधिक से अधिक 1.38 लाख रुपये तक थी, वहीं, हाइब्रिड कारों पर यह राशि 13,000 रुपये तक निर्धारित की गयी है ।

यह नई स्कीम फेम-2 योजना तीन वर्ष तक वैध रहेगी। वहीं भारतीय बाजार में बहुत जल्द कुछ और भी नई इलेक्ट्रिक जैसे- टाटा टिगोर ईवी, मारुति वैगनआर, ईवी और टाटा अल्ट्रोज आदि कारे बाजार में आने वाली हैं| आने के बाद इन कारों पर भी फेम-2 के तहत प्रोत्साहन राशि दी जायेगी।

इन कारों के साथ-साथ हुंडई भी अपनी कोना इलेक्ट्रिक प्रीमियम कार को भारत में लॉन्च कर देगी, परन्तु आपको यह कार खरीदने के लिए 15 लाख रुपये से अधिक देने होंगे क्योंकि इस पर आपको कोई प्रोत्साहन राशि नहीं मिलेगी।

फेम-2 स्कीम के तहत इलेक्ट्रिक व्हीकल के अनुकूल इंफ्रास्ट्रक्चर का भी विकास होगा| इसके लिए सारे देश में 2,700 इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन लगाने पर विचार किया जा रहा हैं। 

यह भी पढ़े: फ्रांस की सुपरकार निर्माता कंपनी बुगाती ने पेश किया दुनिया की सबसे महंगी कार