नए साल के पहले दिन केदार नाथ में हुई जमकर बर्फबारी सड़क मार्ग से सम्पर्क कटा , कश्मीर में भी यही हाल

0
108

नए वर्ष की शुरुआत होते ही केदार नाथ में पहले ही दिन जमकर बर्फबारी हुई, जिसके कारण सड़क पर बर्फ की परत जम गयी | बर्फ की परत जमनें से वाहनों का आवागमन अवरुद्ध हो गया है | बर्फीली हवाएं चलने से लोगो नें घर से निकलना बंद कर दिया हैं | आंचलिक मौसम विभागों के अनुसार, आगे आने वाले समय में बारिश और बर्फबारी होने की संभवना हैं। केदार नाथ के साथ-साथ जम्मू कश्मीर,हिमांचल प्रदेश का भी यही हाल है |

Advertisement

उत्तराखंड केदारनाथ धाम में पूरे दिन थोड़ी-थोड़ी देर में बर्फबारी होती रही, जिसके कारण यहां पर पौन फुट से भी अधिक बर्फ जम गई है । हिमपात के कारण बुधवार को थल-मुनस्यारी मार्ग बेटुलीधार और कालामुनि के पास बंद हो चुका है। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, उत्तराखंड के केदारनाथ में न्यूनतम तापमान माइनस 5 डिग्री है और कश्मीर के कारगिल में माइनस 17.0 डिग्री है, वहीं लद्दाख में माइनस 12.4 डिग्री तापमान रिकार्ड किया गया है|

जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग परअधिक बारिश और बर्फबारी होने से वाहनों के आवागमन पर रोक लगा दी गयी है | मार्ग अवरुद्ध होने के कारण दोनों तरफ से हजारों छोटे-बड़े वाहन फंस गए हैं। जिससे रास्ता पूरी तरह से बंद हो चुका है | कश्मीर के आस पास के राजोरी और पुंछ जिले की मुगल रोड पहले से ही बर्फबारी की वजह से बंद है, जिससे इससे कश्मीर घाटी का देश से सड़क संपर्क कट गया है।

इसी प्रकार हिमांचल प्रदेश में कुछ स्थानों पर हल्की बूंदाबांदी भी हुई, जबकि ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी हुई है। आठ जनवरी तक प्रदेश में मौसम खराब बने रहने के आसार हैं। प्रशासन ने मंडी जिले में बर्फबारी के चलते कमरूनाग, शिकारी देवी में पर्यटकों और श्रद्धालुओं के जाने पर प्रतिबन्ध लगा दिया है।

Advertisement