आपके शरीर में हो सकती है हॉर्मोन्स की गड़बड़ी इन संकेतों से जाने आप

हार्मोंस की समस्या अधिकतर महिलाओं में पायी जाती है| यहाँ तक कि पुरुषों की तुलना में भी महिलाओं के शरीर में हॉर्मोन्स से जुड़े बदलाव अधिक देखने को मिलते हैं| बता दें, कि शरीर में सबसे अधिक ऐस्ट्रोजेन, प्रोजेस्टेरॉन और सेक्स हॉर्मोन टेस्टोस्टेरॉन घटता और बढ़ता रहता है|

इसके अतिरिक्त और भी कई प्रकार के हार्मोन्स कारण शरीर में समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं | जैसे- मेटाबॉलिज्म हॉर्मोन थायरॉइड, एनर्जी हॉर्मोन ऐड्रनलीन, स्ट्रेस हॉर्मोन कॉर्टिसोल और स्लीप हॉर्मोन मेलाटोनिन की भी अक्सर शरीर में कमी रहती है जिसका असर शरीर पर बहुत जल्द दिखने लगता है, इसलिए आप भी जान लीजिये हार्मोन्स की गड़बड़ी के इन संकेतों के बारे में, जिससे आपको मालूम हो जाएगा, कि आपके शरीर में हार्मोन्स की समस्या है, अथवा नहीं| 

ये हैं संकेत

वजन का घटना बढ़ना

यदि आपके शरीर के वजन में अचानक परिवर्तन होने लगे समझ जाइए कि, आपके शरीर में हार्मोन्स की गड़बड़ी है| यदि आपका वजन  बहुत अधिक बढ़ और घट रहा है, तो ये भी हार्मोन्स के संकेत होते हैं| शरीर में पाया जाने वाला थायरॉइड ग्लैंड मेटाबॉलिज्म से जुड़े हॉर्मोन्स को नियंत्रित करता है, जिससे वजन बढ़ता- घटता है। इसके अतिरिक्त आपको ठंड, थकान, ड्राई स्किन और कब्ज की परेशानी हो, तो इससे भी आपके शरीर में थायरॉइड ग्लैंड कम हॉर्मोन्स बना रहा है।

शरीर में लम्बे समय तक थकान बनी रहना

बहुत से लोग ऐसे होते हैं जिनके शरीर में लम्बे समय तक थकान और कमजोरी बनी रहती और उन्हें इसका कारण मालूम नहीं चल पाता है, यदि आपके अपने शरीर इस तरह की समस्या महसूस हो तो समझ जाइए, कि आपके शरीर हार्मोन्स की समस्या हो रही है | यदि आपको काफी लम्बे समय से थकान और कमजोरी के साथ डिप्रेशन और निराशा महसूस हो रही है, तो यह हॉर्मोनल गड़बड़ी के लक्षण है।

शरीर से अधिक पसीना निकलना

पसीना आना आम बात होती हैं, लेकिन अगरआपके शरीर से अचानक रात में सोते समय पसीना अधिक निकलता है तो इस स्थिति को नाइट स्वेट कहा जाता हैं। जो ब्रेन में उपस्थित हैपोथैलमस शरीर के तापमान को कंट्रोल करने में मदद करता है। यदि  आपके शरीर से सोते समय अधिक पसीना निकलता है, तो यह भी हॉर्मोनल गड़बड़ी का संकेत होता है।

बालों की समस्या

आपने अक्सर देखा होगा, कि महिलाओं के प्रैगेनेंट होने से पहले और बाद में बाल काफी झड़ने शुरू हो जाते हैं | बालों का अधिक झड़ना, कमजोर होना आदि समस्याओ का सम्बन्ध हार्मोन्स से है|