आर्टिकल 370 : दिग्विजय ने कहा, नेहरू के चरणों की धूल भी नहीं है शिवराज

जब से देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने  जम्मू-कश्मीर पर अनुच्छेद 370 को  खत्म  करने और  लद्दाख को अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश बनाने का ऐलान किया हैं इसके बाद से ही सियासत ने तूल पकड लिया है। वहीं अब मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू को अपराधी बताया है | तो वहीं कांग्रेस की तरफ से मध्य प्रदेश के ही पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने जवाब  देते हुए कहा, ‘नेहरू जी के पैरों की धूल भी नहीं हैं शिवराज, शर्म आनी चाहिए उनको।’  

इसे भी पढ़े: आर्टिकल 370: संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की अध्यक्ष ने पाकिस्तान की चिट्ठी पर टिप्पणी करने से किया इनकार

शिवराज के बयान के बाद बढ़ी सियासी हलचल 

रविवार 11 अगस्त को  शिवराज की तरफ से यह बयान सामने आने के बाद कांग्रेस में अचानक से हलचल मच गई और वहीं  पार्टी नेता माणक अग्रवाल ने बीजेपी नेता को मूर्ख  कह दिया | इसके बाद  उन्होंने शिवराज से माफी मांगने के लिए भी कहा।  

शिवराज का बयान 

शिवराज ने अपने भाषण में कश्मीर समस्या और आर्टिकल 370 का जिक्र करते हुए नेहरू को अपराधी करार दिया था। उन्होंने कहा था, ‘जब भारतीय सुरक्षा बल पाकिस्तानी आदिवासियों (कबाइलियों) को कश्मीर से भगा रहे थे तभी नेहरू जी ने सीजफायर घोषित करवा दिया। उस वक्त एक तिहाई कश्मीर पाकिस्तान के कब्जे में था, यदि उस वक्त सीजफायर नहीं होता तो पूरा कश्मीर हमारे पास होता। एक देश में दो निशान, दो विधान, दो प्रधान यह सिर्फ अन्याय नहीं बल्कि देश के खिलाफ अपराध है।’

इसे भी पढ़े: धारा 370 को हटाने को लेकर अमेरिका का आया बयान, कहा – ‘अमेरिका को कोई सूचना नहीं दी’