उत्तर प्रदेश कानून मंत्री तथा अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत मंत्री ब्रजेश पाठक ने बताया रूफटाॅप सोलर पावर संयंत्रों को लोकप्रिय बनाने के लिए हम कटिबद्ध तथा व्यापक प्रचार-प्रसार की जरूरत

0
96
photo courtesy : upcmnews.com

यूपीनेडा मुख्यालय गोमतीनगर में प्रदेश के विभिन्न श्रेणी के लाभार्थियों द्वारा स्थापित रूफटाप ग्रिड कनेक्टेड सोलर पावर संयंत्रों के सापेक्ष केन्द्र एवं राज्य अनुदान धनराशि को उनके बैंक खातों में एक क्लिक के माध्यम से अन्तरित किये जाने के अवसर पर अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत मंत्री श्री ब्रजेश पाठक ने संबोधित किया। उन्होंने ख़ुशी जाहिर करते हुए कहा कि ज्यादातर लाभार्थी लखनऊ शहर के ही हैं, लेकिन इस योजना का व्यापक रूप से प्रचार-प्रसार पूरे प्रदेश में किया जाना चाहिए ताकि अन्य लाभार्थियों को भी इसकी महत्ता पता चले और वो लोग भी इसका लाभ उठा सकें।

Advertisement

मंत्री ब्रजेश पाठक ने प्रदेश के 235 लाभार्थियों को 4.5 करोड़ का अनुदान एक क्लिक के माध्यम संबंधित लाभार्थी के बैंक खातों में अंतरण करते हुए कहा कि रूफटाप ग्रिड कनेक्टेड सोलर पावर संयंत्रों के उपयोग हेतु आम लोगों को जागरूक करने की जरूरत है इसके लिए विभिन्न स्रोतों से जागरूकता फ़ैलाने की आवश्यकता है । इन संयंत्रों के स्थापित करके अधिक से अधिक लाभार्थी लाभ पहुँचाया जा सकता हैं। साथ ही लखनऊ शहर को सोलर सिटी के रूप में विकसित किया जा सकता है।

अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत मंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश सोलर रूफटाॅप पाॅलिसी-2017 के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में प्रथम बार घरेलू विद्युत उपभोक्ताओं को 15,000 रु. प्रति किलोवाट अधिकतम 30,000 रु. तक राज्य सहायता का प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि ग्रीन एनर्जी को बढ़ावा दें ताकि कार्बन उत्सर्जन कम हो और आने वाले समय में पर्यावरण को प्रदूषण से भी बचाया जा सके।

प्रमुख सचिव, अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत विभाग आलोक कुमार द्वारा भी बताया गया कि सरकारी संस्थानों, चैरिटेबिल संस्थाओं आदि के हित में राज्य विद्युत नियामक आयोग में एक पेटिशन भी फाईल की गई है जिसमें ग्राॅस मीटरिंग के स्थान पर नेट मीटरिंग का प्रावधान बनाए रखे जाने का अनुरोध किया गया है। समारोह के दौरान निदेशक यूपीनेडा श्री सुशील कुमार पटेल द्वारा आश्वस्त किया गया कि सोलर रूफटाॅप घरेलू एवं अन्य उपभोक्ताओं को अनुदान प्राप्त करने में किसी भी असुविधा का सामना नहीं करना पड़ेगा।

Advertisement