इसरो सेंटर की भावुक तस्वीरें, भावुक इसरो चीफ को मोदी जी ने लगाया गले

शुक्रवार 6 सितंबर को देर रात चंद्रयान 2 चांद से महज 2 किलोमीटर की दूरी पर आकर कहीं  गायब हो गया| जिसके बाद सभी वैज्ञानिक पूरी तरह से निराश दिखे| वहीं, शनिवार सुबह पीएम नरेंद्र मोदी ने इसरो वैज्ञानिकों को संबोधित किया और भाषण के दौरान पीएम ने मिशन से जुड़े सभी लोगों का हौसला बढ़ाया, इस दौरान मिशन पूरा न होने पर इसरो सेंटर में बहुत अधिक मायूसी छाई हुई थी, इसके बाद जब मोदी के भाषण खत्म हुआ तो इसरो चीफ भावुक भी काफी भावुक हो गए और मोदी को अपने गले लगा लिया|

इसे भी पढ़े:  चंद्रयान -2 से संपर्क टूटने पर कुमार विश्वास ने लिखी कविता-“लो हमने बढ़कर खोल दिया इस अंतरिक्ष का दुर्ग द्वार’

जब सिवन भावुक हो गए तो पीएम मोदी ने उन्हें अपने गले से लगा लिया

मोदी का संबोधन सुनते ही इसरो वैज्ञानिक में मायूसी सी नजर आने लगी

मोदी का संबोधन सुनने के बाद पूर्व इसरो चीफ के राधाकृष्णन भी काफी दुखी दिखाई दिए

इसके अलावा जब संबोधन चल रहा था, तो इसरो वैज्ञानिक कंप्यूटर की तरफ बहुत ही ध्यानपूर्वक देख रहे थे, कि कहीं कुछ अच्छा संकेत मिल जाए  

पीएम मोदी ने अपने सम्बोधन में सभी की हौसला अफजाई बढ़ाई है

पीएम का संबोधन सुनते इसरो कर्मचारी के चेहरों पर उदासी दिखाई दी

इसरो में सभी वैज्ञानिक किसी संकेत मिलने की आशा में कंप्यूटर की तरफ देखे जा रहे थे

इसे भी पढ़े: ‘चंद्रयान-2’ के लैंडर ‘विक्रम’ का चांद पर उतरते समय इसरो से टूट गया संपर्क, यहाँ पढ़े पूरी खबर