Home Breaking News Hanuman Jayanti 2020 : हनुमान जी को देवताओं और ऋषियों मुनियों द्वारा...

Hanuman Jayanti 2020 : हनुमान जी को देवताओं और ऋषियों मुनियों द्वारा दिए गए वरदान को जाने

0
971

हनुमान जयन्ती का त्योहार चैत्र शुक्ल पक्ष पूर्णिमा को मनाया जाता है । शास्त्रों के अनुसार हनुमान जयंती वर्ष में दो तिथियों में मनाये जानें की परंपरा है। पहला चैत्र महीने की पूर्णिमा तिथि पर मनाई जाती है, जबकि महर्षि वाल्मिकी रचित रामायण के अनुसार हनुमानजी का जन्म कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को मंगलवार के दिन, स्वाति नक्षत्र और मेष लग्न में हुआ था। हिंदू मान्यता के अनुसार चैत्र पूर्णिमा का दिन बेहद शुभ माना गया है। इस माह 8 अप्रैल को हनुमान जयंती मनाई जाएगी, जिसका अपना अलग ही महत्‍व है।

टीवी की (सीता) दीपिका ने बताया कौन हो बॉलीवुड की फिल्म रामायण

हनुमान जी को मिले वरदान के बारे में जाने

  • भगवान सूर्य ने हनुमान जी को अपने तेज का सौवां हिस्सा देते हुए कहा कि जब इसमें शास्त्र अध्ययन करने की शक्ति हो जाएगी, तब मैं ही इसे शास्त्रों का ज्ञान दूंगा, जिससे यह अच्छा समय होगा और शास्त्र ज्ञान में इसकी समानता करने वाला कोई और नहीं होगा।
  • धर्मराज यम द्वारा हनुमान जी को वरदान दिया गया कि यह मेरे दण्ड से अवध्य और निरोग होगा।
  • कुबेर द्वारा वरदान दिया गया कि इस बालक को युद्ध के दौरान कभी पराजित नहीं होगा तथा मेरी गदा संग्राम में भी इसका वध न कर पायेगी ।
  • भगवान शंकर द्वारा यह वरदान दिया गया है कि यह मेरे और मेरे शस्त्रों द्वारा भी अवध्य रहेगा ।
  • देव शिल्पी विश्वकर्मा द्वारा वरदान दिया कि मेरे द्वारा बनाए हुए जितने भी शस्त्र हैं, उनसे यह अवध्य रहेगा और विजयी होगा।
  • देवराज इंद्र ने हनुमानजी को वरदान दिया कि यह बालक आज से मेरे वज्र से भी अवध्य होगा ।
  • जल देवता वरुण द्वारा वरदान दिया गया कि दस लाख वर्ष की आयु पूर्ण हो जाने पर भी मेरे पाश और जल से इस बालक की मृत्यु नहीं होगी।
  • परमपिता ब्रह्मा द्वारा हनुमानजी को वरदान दिया गया कि यह बालक दीर्घायु, महात्मा और सभी प्रकार के ब्रह्दण्डों से अवध्य रहेगा । युद्ध के दौरान इसे पराजित नहीं कर पाएगा। यह इच्छा अनुसार रूप बदल सकेगा, जहां चाहेगा वहां जा सकेगा। इनकी गति इनके इच्छा के अनुसार तीव्र या मंद हो जाएगी ।

आ रहा है रामायण दूरदर्शन पर दोबारा