हिना जायसवाल बनीं भारतीय वायु सेना की पहली महिला फ्लाइट इंजीनियर

0
100

भारत के लगभग सभी क्षेत्रों में महिलाओं की भागीदारी बढ़ती जा रही है, इसी ओर कदम बढ़ाते हुए भारतीय वायु सेना में हिना जायसवाल ने पहली महिला फ्लाइट लेफ्टिनेंट का मुकाम हासिल किया है | लेफ्टिनेंट हिना जायसवाल ने येलाहांका वायु सेना स्टेशन में कोर्स पूरा करने के बाद पहली महिला फ्लाइट इंजीनियर बनकर सभी महिलाओं का सर फक्र से ऊँचा कर दिया है |

Advertisement

भारत के इतिहास में इनका नाम सुनहरे अक्षरों से दर्ज हो चुका है, जो सभी महिलाओं के लिए एक प्रेरणा सिद्ध होगा | वायु सेना में हिना इंजीनियरिंग शाखा के अंतर्गत 5 जनवरी 2015 को एक सैनिक के रूप में भर्ती हुईं | इससे पूर्व इन्होने पहले फ्रंटलाइन सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल दस्ते में फायरिंग टीम की प्रमुख और बैटरी कमांडर के रूप में कार्य किया है | हिना जायसवाल का फ्लाइट इंजीनियरिंग  कोर्स 15 फरवरी को पूरा हो चुका है |

मिली जानकारी के मुताबिक छह महीनों के पाठ्यक्रम के दौरान हिना ने अपने पुरुष प्रतिद्वंद्वियों के साथ प्रशिक्षण लेते हुए अपनी प्रतिबद्धता, समर्पण और दृढ़ता का प्रदर्शन किया है | हिना मूल रूप से चंडीगढ़ की रहने वाली है, इन्होने पंजाब यूनिवर्सिटी से इंजीनियरिंग में स्नातक किया है |

फ्लाइट इंजीनियर के रूप में उनका चयन हो चुका है, जरुरत पड़ने पर सियाचिन ग्लेशियर की बर्फीली ऊंचाइयों से अंडमान के सागर में वायु सेना की ऑपरेशनल हेलीकॉप्टर यूनिट्स पर यह अपनी सेवा देंगी |

हिना ने कहा, “मैं विमानन में अपने काम को लेकर उत्साहित हूं और काम के दौरान आने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार हूँ ” |

Advertisement