गृह मंत्रालय ने NRC की अंतिम लिस्ट की जारी, 19 लाख से अधिक लोग हुए बाहर

गृह मंत्रालय ने नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन अर्थात एनआरसी की अंतिम सूची जारी हो गई है। एनआरसी के राज्य समन्वयक प्रतीक हजेला ने बताया कि, लगभग 31 लाख से अधिक व्यक्तियों को अंतिम सूची में शामिल करने के योग्य पाया गया है, और 19 लाख से अधिक लोगो को इस लिस्ट में शामिल नहीं किया जा सका है, क्योंकि इन लोगों ने अपने दावे प्रस्तुत नहीं किए थे। परिणाम से संतुष्ट नहीं होने पर यह लोग विदेशी ट्रिब्यूनल के समक्ष अपील दायर कर सकते हैं। 

ये भी पढ़े: इनकम टैक्स रिटर्न भरने की आखिरी तिथि आज, विभाग ने अंतिम तिथि बढ़ाए जाने की खबरों को किया खारिज  

लोगों में भय का माहौल देखते हुए पूरे राज्य को हाई अलर्ट पर रखा गया है, लेकिन लोगों को डरने की जरूरत नहीं है। केंद्र सरकार ने पहले ही साफ कर दिया है, कि जो लोग अपनी नागरिकता खो देंगे उन्हें डिटेंशन सेंटर नहीं भेजा जाएगा। असम के सीएम सर्वानंद सोनेवाल ने एनआरसी की अंतिम सूची जारी होने से पहले यहां के लोगों से शांती बनाए रखने की अपील की। उन्होंने कहा ‘मैं आप सभी से असम में शांति और धीरज बनाए रखने की अपील करता हूं। जब तक अपील करने का समय है तब तक किसी को विदेशी नहीं माना जाएगा। राज्य सरकार कानूनी समर्थन का विस्तार करेगी।’

गृह मंत्रालय ने लोगों से अपील की है, कि एनआरसी की अंतिम सूची आने से जुड़ी किसी भी प्रकार की अफवाह पर विश्वास न करें। मंत्रालय ने साफ किया है, कि किसी व्यक्ति का लिस्ट में नाम शामिल नहीं होने का मतलब यह नहीं है कि उसे विदेशी घोषित कर दिया गया है।

ये भी पढ़े: केरल को नहीं मिला बाढ़ राहत पैकेज, राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी पर लगाया भेदभाव का आरोप