कुलभूषण जाधव से मिलने पाक पहुंचे भारतीय राजनयिक, मुलाकात के लिए 2 घंटे का समय तय

Kulbhushan Jadhav Case: आज सोमवार 2 सितंबर को भारत ने कुलभूषण जाधव को दिए जाने वाले राजनयिक पहुंच को लेकर पाकिस्तान के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है। इस बात की जानकारी सरकारी सूत्रों ने दी है। वहीं अब पाकिस्तान में डिप्टी हाई कमिश्नर गौरव अहलूवालिया कुलभूषण जाधव से मिलने के लिए पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय पहुंचे हैं।  अहलूवालिया और विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल के साथ उनकी बैठक शुरू हो गई है, यह बैठक लगभग दो घंटे तक चलेगी। 

इसे भी पढ़े: कुलभूषण जाधव को कांसुलर एक्सेस देने की बात पर पाकिस्तान ने रखी ये शर्ते

सरकारी सूत्रों ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि,हमें उम्मीद है कि पाकिस्तान इसके लिए सही माहौल उपलब्ध कराएगा ताकि बैठक स्वतंत्र, निष्पक्ष, सार्थक और आइसीजे के आदेशों के अनुरूप हो सके।’

वहीं  इससे पहले रविवार 1 सितंबर को पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव को उसके अगले दिन सोमवार को कॉन्सुलर एक्सेस देने के लिए कहा था। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि, जेल में बंद कुलभूषण जाधव को सोमवार को वियाना कन्वेंशन, इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (ICJ) के फैसले और पाकिस्तान के कानूनों के अनुरूप कॉन्सुलर एक्सेस दिया जाएगा।’

जानकारी देते हुए बता दें कि, पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैजल ने ट्वीट करके जानकारी देते हुए कहा कि, 2 अगस्त को कुलभूषण को विएना समझौते, अंतरराष्ट्रीय न्यायालय के फैसले और पाकिस्तानी कानून के मुताबिक 2 सितंबर 2019 को राजनयिक पहुंच दी जाएगी।’

इसके बाद भारत ने आइसीजे के फैसले के तुरंत बाद ही पाकिस्तान से अपील करते हुए कहा था कि, उस फैसले के सही संदर्भ में हर कदम उठाया जाना चाहिए। इसमें जाधव को राजनयिकों से मुलाकात का  मुद्दा सबसे प्रमुख माना गया है, क्योंकि इसी से आगे जाधव के खिलाफ पाकिस्तान में चलाए जा रहे कानूनी प्रक्रिया तहत भारतीय पक्षकार कोई योजना बना सकेंगे|

इसे भी पढ़े: कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान काउंसलर एक्सेस देने के लिए तैयार, भारतीय राजनयिक से कल होगी मुलाकात