एक ट्ववीट करने पर इन्फोसिस ने कर्मचारी को निकाला – पढ़े और जाने क्या है वो ट्ववीट

जानी मानी सॉफ्टवेयर कंपनी इन्फोसिस ने अपने एक कर्मचारी को एक ट्ववीट करने पर नौकरी से निकाल दिया है। आपको बता दें कि इस ट्वीट में क्या लिखा गया था , इस व्यक्ति ने ट्वीट किया था कि “चलो हाथ मिलाएं, बाहर छींके और कोरोना वायरस फैलाएं”। जिसके परिणाम स्वरुप इन्फोसिस ने इसे कंपनी के मूल्यों के खिलाफ माना और इसी बात पर कार्रवाई की गई ।

मुजीब मोहम्मद द्वारा किये गए ट्वीट, ‘चलो हाथ मिलाएं, बाहर लोगों के बीच मुंह खोलकर छींके। कोरोना वायरस फैलाएं’ को वायरल होने पर सोशल मीडिया पर प्रतिक्रिया होने लगी तो बता दे कि कंपनी इन्फोसिस में भी हलचल शुरू हो गई। इस पर पहले तो कंपनी ने बताया कि वह व्यक्ति इन्फोसिस का कर्मचारी नहीं है, लेकिन फिर बाद में जांच में वह उनका ही कर्मचारी निकला तो कार्रवाई हुई ।

कोरोना से लड़ने के लिए रेलवे का मिला साथ

कंपनी ने ट्वीट के माध्यम से कहा, ‘कर्मचारी की ओर से किया गया पोस्ट इन्फोसिस के नियमों और जिम्मेदार सोशल शेयरिंग के खिलाफ है। इन्फोसिस इस तरह की हरकतों को लेकर जीरो टोलरेंस की नीति रखता है। कर्मचारी को उसकी सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है।’

कोरोना वायरस: अमेरिका में मचा हाहाकार पिछले 24 घंटे में हुई 345 मौतें