जूलियन असांजे को ब्रिटिश पुलिस द्वारा लंदन में गिरफ्तार किया गया

एक बड़ी बात सामने आई है कि जो शख्स 7 सालों से पुलिस की नजरों से बचा हुआ था उसे अब हिरासत में ले लिया गया है | विकिलीक्स के संस्थापक जूलियन अंसाजे को पुलिस द्वारा लंदन स्थित इक्वाडोर दूतावास से गिरफ्तार कर लिया गया है। यह अपराधी अपने जुर्म के पीछे बीते 7 सालों से इक्वाडोर के दूतावास में रह रहा था।

इसे भी पढ़े: विकिलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे कौन हैं ? जाने यहाँ सब कुछ

बता दें कि असांजे के ऊपर स्वीडन में एक यौन उत्पीड़न के केस में प्रत्यर्पित किया गया था जिससे बचने के लिए वह शख्स 7 साल से दूतावास में शरण ले रखी थी | लंदन की मेट्रोपॉलिटन पुलिस ने बताया है कि फिलहाल असांजे को हिरासत में लिया गया है और उन्हें वेस्टमिन्सटर मजिस्ट्रेट कोर्ट के समक्ष पेश किया जाएगा। 

इसे भी पढ़े: बेल या जमानत किसे कहते है, कैसे मिलती है – जानें यहाँ

गौरतलब है कि असांजे ने वर्ष 2010 में बड़ी संख्या में अमेरिकी गोपनीय दस्तावेजों को सार्वजनिक कर दिया था। इसके बाद वर्ष 2012 में असांजे ने स्वीडन में प्रत्यर्पण से बचने के लिए इक्वाडोर के दूतावास में अपने रहने का ठिकाना बना लिया था | फिर बाद में असांजे पर से सेक्स अपराध से जुड़े मामले को स्वीडन ने हटा दिया। 

मामला हटने के बाद भी असांजे दूतावास से कहीं और नहीं गये क्योंकि जमानत का मामला खत्म हो जाने के कारण उनपर लंदन में गिरफ्तारी  डर बना हुआ था | एक साल पहले ही उन्हें12 दिसंबर से इक्वाडोर की नागरिकता दी गई |

इसे भी पढ़े:माल्या को भारत लाने की उम्मीद बढ़ गई है प्रत्यर्पण आदेश पर हस्ताक्षर होने पर – पढ़े पूरी खबर