जानिए इस साल का आखिरी सूर्य ग्रहण कब और कहाँ दिखेगा

इस वर्ष 26 दिसंबर अमावस्या पर साल का तीसरा और अंतिम सूर्यग्रहण होगा। इस बार के सूर्य ग्रहण की खास बता यह है, कि यह भारत में भी दिखाई देगा। भारत में यह केरल के चेरुवथुर में दिखाई देगा। मीडिया से प्राप्त जानकारी के अनुसार, आंशिक सूर्यग्रहण सुबह लगभग 8.04 मिनट से शुरू होगा और 9 बजकर 24 मिनट पर चंद्रमा सूर्य के किनारें को ढकना शुरु कर देगा। इसके बाद लगभग 9.26 मिनट पर पूर्ण सूर्यग्रहण दिखाई देगा, और यह 11 बजकर 5 मिनट पर समाप्त हो जाएगा।

प्रत्येक माह के कृष्ण पक्ष में आने वाली अमावस्या बेहद खास होती है। ऐसा माना जाता है, कि इस दिन बुरी शक्तियां सक्रिय होती हैं, इसलिए अमावस्या के दिन नकारात्मक विचारों से दूर रहना चाहिए। पितृदोष से मुक्ति पाने के लिए इस दिन स्नान-दान इत्यादि करना आवश्यक होता है।

ये भी पढ़े: सूर्य ग्रहण 2019: किस राशि पर पड़ेगा क्या प्रभाव  

धार्मिक मान्यता के अनुसार  

धार्मिक मान्यता के अनुसार, जब अमृत मंथन में देवताओं और दानवों के बीच लड़ाई हो रही थी, उस समय भगवान विष्णु ने मोहनी का रुप लेकर देवताओं और दानवों को अलग-अलग बैठा दिया था। हालांकि, कुछ दानव छुपके से देवताओं की लाइन में आकर बैठ गए थे।

अमृत बांटते वक्त दानवों की इस हरकत को सूर्य और चांद ने देख लिया था। दोनों ने भगवान विष्णु को इसकी जानकारी दी, उन्होंने अपने सुदर्शन चक्र से दानवों के सिर और धड़ अलग कर दिए, लेकिन फिर भी वह मरे नहीं| सिर वाला हिस्सा राहु और धड़ वाले हिस्से को केतु कहते हैं। कहा जाता है, कि राहु और केतु सूर्य और चंद्रमा को अपना दुश्मन मानते हैं।

ये भी पढ़े: साल का पहला ग्रहण कब लगा था | किन राशियों पर हुआ था इसका असर