Women’s Equality Day: जानिए 26 अगस्‍त को क्‍यों मनाया जाता है महिला समानता दिवस?

Women’s Equality Day:  भारत के साथ -साथ पूरी दुनिया में महिला समानता दिवस 26 अगस्‍त को मनाया जाता है| 26 अगस्त को संयुक्‍त राज्‍य अमेरिका में 19वें संविधान संशोधन के माध्यम से ही महिलाओं को समानता का अधिकार दिया गया था| इसी संशोधन के तहत महिलाओं को पुरुषों की तरह वोट देने का अधिकार भी दे दिया गया था|

इसे भी पढ़े: भारत की पहली महिला डॉक्टर और विधायक मुथुलक्ष्मी रेड्डी का 133 वां जन्मदिन, सम्मान में गूगल नें बनाया डूडल

इस दिन अब महिलाओं की आजादी और समानता के प्रति समाज को जागरुक करने के लिए कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है, इसी के साथ काफी संगठन और संस्‍थान वाद-विवाद प्रतियोगिताओं, कला प्रदर्शनी और संगोष्‍ठी का आयोजन करते हैं| 

महिला समानता दिवस के खास दिन का इतिहास 

अमेरिकी कांग्रेस ने 26 अगस्‍त 1971 में  महिला समानता दिवस मनाने का ऐलान किया था | इसी दिन अमेरिकी संविधान में हुए 19वें संशोधन के तहत महिलाओं को वोट देने का अधिकार दिया गया था, इसलिए यह दिवस इसी ऐतिहासिक घोषणा की याद में मनाया जाता है| इसके पहले वहां महिलाओं को द्वितीय श्रेणी नागरिक का दर्जा प्राप्त था|

महिलाओं को समानता का दर्जा दिलाने के लिए लगातार संघर्ष करने वाली एक महिला वकील बेल्ला अब्ज़ुग के प्रयास से 1971 से 26 अगस्त को ‘महिला समानता दिवस’ के रूप में मनाया जाने लगा|

इसे भी पढ़े: ब्रिटेन में भारतीय मूल की पहली महिला गृहमंत्री बनी प्रीति पटेल