सिविल सेवा परीक्षा के लिए आयु सीमा में कोई बदलाव नहीं – जितेन्द्र सिंह

पीएमओ राज्य मंत्री डॉ. जितेन्द्र सिंह के अनुसार, सिविल सेवा परीक्षा (UPSC) के लिए आयु सीमा में कोई बदलाव नहीं किया गया है | सरकार का कहना है, कि आयु मानदंड को लेकर कोई परिवर्तन नहीं किया गया है | सरकार ने कहा कि ऐसी रिपोर्ट पेश करने वाले लोगों को प्रतिबंधित किया जाना चाहिए |

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार, नीति आयोग ने केद्र सरकार से गुजारिश की थी, कि सिविल सेवा परीक्षा में आवेदन करने वाले सामान्य श्रेणी के अभ्यर्थियों की वर्ष 2022-23 तक अधिकतम आयु सीमा को घटाकर 27 वर्ष कर दी जाए |

इससे पहले बासवन कमेटी ने भी आयु सीमा में बदलाव करने के लिए कहा था | इस समय सिविल सेवा परीक्षा में न्यूनतम आयु सीमा 21 वर्ष और अधिकतम आयु 32 वर्ष है। पूर्ववर्ती यूपीए सरकार द्वारा सिविल सेवा परीक्षा में सिविल सर्विसेज एप्टीट्यूड टेस्ट (सीसैट) लागू कर इसके प्रारूप में काफी बदल दिया गया था। बात दें कि 2014 में भी भाजपा सरकार बनने के बाद प्रतियोगी छात्रों ने दिल्ली समेत अन्य शहरों में भी इसके खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया था।

नीति आयोग ने आयु घटाने की मांग के साथ-साथ सिविल सर्विसेज में एक ही एग्जाम लेने की मांग सरकार से की है |