100 भारतीय मछुआरे पकिस्तान से सदभावना के तहत रिहा

0
240

भारत में पुलवामा आतंकी हमले के बाद विश्व भर में पाकिस्तान की किर-किरी हो रही है, इसलिए पाकिस्तान लगातार अपनी छवि सुधारने में लगा हुआ है और भारत के साथ अपने रिश्ते सही करने का प्रयास कर रहा है| पाकिस्तान ने सदभावना के तहत रविवार को 100 भारतीय मछुआरों को आजाद कर दिया है|

Advertisement

ये भी पढ़ें: यूएई सरकार ने दिया भारतीय डिग्री को समान दर्जा

मीडिया से प्राप्त जानकारी के अनुसार, भारतीय कैदियों को पहले भारी सुरक्षा के बीच कराची छावनी रेलवे स्टेशन ले जाया गया, उसके बाद उन्हें लाहौर के लिए अल्लमा इकबाल एक्सप्रेस में बैठाया गया, इसके बाद इन्हें वाघा सीमा पर ले जाया गया, जहां उन्हें भारतीय अधिकारियों को सौंपा गया|

भारतीय मछुआरों को पाक के जलक्षेत्र में घुसने और अंतरराष्ट्रीय समुद्री सीमा का उल्लंघन करने के लिए गिरफ्तार किया गया था, जानकारी के अनुसार समाज कल्याण संगठन ईधी फाउंडेशन द्वारा उन्हें तोहफे एवं यात्रा का खर्च दिया गया| पाकिस्तान ने शुक्रवार को घोषणा की थी, कि वह 360 भारतीय कैदियों को सदभावना के तहत चार चरणों में इसी माह आजाद करेगा, इनमें से अधिकतर मछुआरे ही हैं|

विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने इस्लामाबाद में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा था, कि ”हम इसे सदभावना के तहत कर रहे हैं, और आशा है कि भारत भी इसी तरह का कदम उठाएगा” उन्होंने कहा, कि पाकिस्तान 360 भारतीय कैदियों को रिहा करेगा, जिनमें 355 मछुआरे हैं| ईधी फाउंडेशन के प्रवक्ता अनवर काजमी ने जानकारी दी है, कि रिहा करने की प्रक्रिया शनिवार से शुरू की जाएगी|

ये भी पढ़ें: भारत में 6 न्यूक्लियर पावर प्लांट का निर्माण करेगा अमेरिका , दोनों देशों में बनी सहमति

Advertisement