कश्मीर में आज से पोस्टपेड मोबाइल सेवाएं होंगी बहाल, 5 अगस्त से इंटरनेट सेवाएं थी बंद

कश्मीर घाटी में लगभग दो महीने बाद पोस्टपेड मोबाइल सेवाएं शुरू कर दी गई हैं| सोमवार दोपहर से घाटी के 40 लाख से अधिक मोबाइल फोन एक्टिव हो गए हैं| यह सभी फोन पोस्टपेड सेवा वाले हैं| राज्य सरकार ने दो दिन पहले पोस्टपेड सेवाओं पर पाबंदी हटाने का फैसला लिया था| सरकार ने फिलहाल पोस्टपेड मोबाइल पर कॉलिंग की सुविधा शुरू करने का फैसला लिया है| मोबाइल इंटरनेट के लिए लोगों को अभी कुछ और दिनों का इंतजार करना पड़ेगा| इसके साथ ही प्रीपेड सेवा पर भी फैसला बाद में होगा|

ये भी पढ़े: NIA ने किया बड़ा खुलासा, भारत में जमात-उल-मुजाहिद्दीन बांग्‍लादेश ने बढ़ाई गतिविधियां

जम्मू एवं कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद-370 को 5 अगस्त को रद्द करने के बाद से ही कश्मीर में मोबाइल फोन सेवाओं और इंटरनेट सुविधाओं को बंद कर दिया गया था| इस अवधि के दौरान हालांकि जम्मू और लद्दाख क्षेत्र में मोबाइल फोन सेवाएं उपलब्ध थीं, लेकिन कश्मीर घाटी में पांच अगस्त से इन पर प्रतिबंध बना हुआ है| श्रीनगर में मीडिया से बात करते हुए राज्य सरकार के प्रवक्ता रोहित कंसल ने कहा, ‘घाटी में समग्र स्थिति में सुधार के बाद सोमवार सुबह से पोस्ट-पेड मोबाइल फोन सेवाओं को बहाल करने की अनुमति देने का निर्णय लिया गया है|

हालांकि इंटरनेट सुविधा की बहाली पर कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है| घाटी में 5 अगस्त से इंटरनेट सेवाएं भी बंद हैं| मीडिया से प्राप्त जानकारी के अनुसार, शुरू में केवल बीएसएनएल पोस्ट-पेड मोबाइलों पर ही मोबाइल फोन कनेक्टिविटी की अनुमति देने का फैसला किया गया था, लेकिन इस तथ्य को ध्यान में रखते हुए कि कुछ स्थानीय लोगों के पास बीएसएनएल का पोस्ट-पेड कनेक्शन नहीं है, विभिन्न सेवा प्रदाताओं के सभी पोस्ट-पेड मोबाइल फोन पर सेवाओं को बहाल करने का निर्णय लिया गया है|

ये भी पढ़े: अयोध्या मामले में इस हफ्ते बंद हो जाएँगी दलीलें, फैसले से पहले लगाई गई धारा-144