अयोध्या मामले में इस हफ्ते बंद हो जाएँगी दलीलें, फैसले से पहले लगाई गई धारा-144

अयोध्या राम जन्मभूमि विवाद पर देश भर की निगाहें लगी हैं, वहीँ उसकी सुनवाई अब समाप्ति की ओर बढ़ चली है। बता दें, इस ऐतिहासिक मुकदमे की सुनवाई इसी सप्ताह पूरी हो जाएगी| सुप्रीम कोर्ट गुरुवार या शुक्रवार तक सुनवाई पूरी करके फैसला सुरक्षित रख लेगा, और नवंबर के मध्य तक फैसला आ जाएगा| इस मामले की सुनवाई करने वाली पीठ की अगुवाई कर रहे मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई 17 नवंबर को सेवानिवृत हो जाएंगे| इससे यह साफ है, कि दिवाली के पहले सुनवाई पूरी हो जाएगी और फैसला दिवाली के बाद आ जाएगा।

ये भी पढ़े: CJI का बड़ा फैसला, इस दिन तक पूरी हो जाएगी अयोध्या मामले की सुनवाई

अभी तक 37 दिन की सुनवाई पूरी हो चुकी है। कोर्ट ने दशहरे की छुट्टियों से पहले कहा था, कि मामले की सुनवाई 17 अक्टूबर तक पूरी कर ली जाएगी। हालांकि उसके भी पहले कोर्ट ने सुनवाई का समय तय करते हुए कहा था, कि सभी पक्ष अधिकतम 18 अक्टूबर तक अपनी बहस पूरी कर लें। मुख्य न्यायाधीश ने उस समय साफ किया था, कि कोर्ट किसी भी हालत मे 18 अक्टूबर के बाद सुनवाई नहीं करेगा।

गुरुवार को यदि जरूरत हुई तो मुस्लिम पक्ष प्रतिउत्तर देगा, नहीं तो कोर्ट उसके बाद मोल्डिंग आफ रिलीफ यानी अपील में जो मांग की गई है, उसमें कोई बदलाव अगर कोई पक्ष चाहे या कुछ वैकल्पिक राहत की मांग पर सुनवाई होगी। इस तरह सुनवाई गुरुवार को पूरी हो जानी चाहिए, यदि कुछ बच गई तो शुक्रवार को हर हाल में पूरी हो जाएगी।

ये भी पढ़े: भगवान राम की विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा अयोध्या में लगेगी