ब्याज दरों के लिए RBI की मीटिंग 5 से 7 फरवरी को

0
86

केंद्रीय बैंक ने सोमवार को एक बयान में बताया कि, भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) 5 से 7 फरवरी तक आयोजित की जाएगी। इसके अतिरिक्त सरकार महंगाई कम करने के लिए भी ब्याज दरों में परिवर्तन कर सकती है | हालाँकि मौद्रिक समीक्षा बैठक में ब्याज दरों में परिवर्तन की संभावना कम है। 

Advertisement

अनुमान लगाया जा रहा है, कि राजकोषीय मोर्चे पर चुनौतियों और कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोत्तरी हो जाने के कारण ब्याज दरों में बदलाव की संभवना कम दिख रही है | आरबीआई के नए गर्वनर शक्तिकांत दास के कार्यकाल की पहली बैठक मुंबई में आयोजित की जायेगी | शक्तिकांत ने RBI की कमान 12 दिसम्बर को संभाली थी | रिजर्व बैंक की (एमपीसी) द्वैमासिक समीक्षा बैठक 5 से 7 फरवरी तक होगी।

बैंक ऑफ बड़ौदा के मुख्य अर्थशास्त्री समीर नारंग ने कहा, कि मौद्रिक नीति समिति आने वाले सात फरवरी को अपने नीतिगत रुख में तटस्थ रह सकती है, इसके बाद बताया कि वर्ष 2018 में अक्टूबर और दिसम्बर तिमाही के दौराने अधिक मंहगाई रिजर्व बैंक के 3.8 फीसदी के मुताबिक कम 2.6 फीसदी ही थी, और मंहगाई में अधिक कमी से  कच्चे तेल में बढ़ोत्तरी हो जाने के कारण 2018-2019 में ग्राहक मूल्य सूचकांक आधारित वेतन चार फीसदी के दायरे में रहने की संभावना है |

इसके अतिरिक्त प्राप्त जानकारी के मुताबिक, इससे रिजर्व बैंक अपने नीतिगत रुख को बदल सकती है | वहीं इस बैठक में स्वास्थ्य, शिक्षा और घरेलू अर्थात निजी समान जैसे प्रमुख कारको में संशोधन करने की संभावना है |

Advertisement