रिपोर्ट में हुआ खुलासा, अक्सर हम लोग रोजाना की गपशप में खर्च कर देतें हैं इतना समय

    0
    421

    क्या आप जानते हैं कि आप दिन भर में  कितनी गपशप कर लेते होंगे? यदि आपको इस बारे में किसी प्रकार की कोई जानकारी नहीं है तो बता  दें कि शोधकर्ताओं ने  इस पर अध्यन किया हैं | जिसकी  रिपोर्ट में हुआ है कि अक्सर हम लोग रोजाना की गपशप में कितना समय खर्च देते हैं | बता दें कि 16 घंटे जागने के दौरान आमतौर पर लोग 52 मिनट गपशप में खर्च कर देते हैं।  यह अध्ययन  महिला और पुरुष दोनों के ऊपर किया गया है |

    Advertisement

    इसे भी पढ़े:  भारतीय सेना को मिले हिममानव ‘येति’ के पैरो के निशान, सेना ने पहली बार जारी की तस्वीर

    कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के शोधकतार्ओं नेअपने अध्यन में पाया है कि कम आयु  वाले लोग उतनी गपशप नहीं करते जितनी कि ज्यादा आयु वाले लोग करते हैं। युवा लोगों में अपने पुराने साथियों के मुकाबले नकारात्मक रूप से गपशप करने की ज्यादा संभावनाएं रहती  हैं। वहीं इस अध्ययन का नेतृत्व करने वाली सहायक मनोविज्ञान प्रोफेसर मेगन रॉबिंस ने बताया  हैं कि इस बारे में जानकारी की कमी है कि कौन कैसे गपशप करता है और किस विषय पर।

    ये लोग करते हैं अधिक गपशप

    शोधकतार्ओं ने सोशल साइकोलॉजिकल एंड पर्सनैलिटी साइंस पत्रिका में प्रकाशित लेख में बताया  है कि हर कोई गपशप करता है और गपशप कुछ भी हो सकती है। लेकिन जो लोग अधिक बोलते हैं वो लोग गपशप भी ज्यादा करते हैं और जो लोग कम बोलते है, वो अधिक बोलने वालों की तुलना में कम गपशप करते हैं | वहीं पुरुषों की तुलना में महिलाएं ज्यादा गपशप करती हैं।

    467 लोगों पर किया गया अध्ययन

    रॉबिंस और उनकी प्रयोगशाला में काम करने वाले विद्याथीर् अलेक्जेंडर करन ने 18 से 58 साल की आयु  वाले 467 लोगों पर अध्ययन किया जिनमें से 269 महिलाएं और 198 पुरुष शामिल रहे ।  

    नकारात्मक गपशप अधिक

    शोध में मालूम हुआ है कि 16 घंटों के काम के दौरान 14 फीसदी लोगों की बातचीत में केवल गपशप की बातें रहती हैं |  इसके अतिरिक्त सकारात्मक की तुलना में नकारात्मक गपशप अधिक थी। जहां सकारात्मक बातें (376) थी, वहीं नकारात्मक बातें (604) थी।  

    अमीर लोगों की गपशप अधिक

    गरीब,  लोगों की तुलना में अमीर  लोग अधिक गपशप करते हैं। रॉबिंस ने जानकारी देते हुए कहा कि, यह विश्वास करना मुश्किल होगा कि कोई व्यक्ति गपशप नहीं करता क्योंकि यदि ऐसा होता है तो इसका अर्थ होगा कि वह तभी किसी दूसरे व्यक्ति की बात करता है जब वह सामने होता है।

    इसे भी पढ़े: स्टेम सेल तकनीक : कैंसर जैसी बड़ी बीमारी की समाप्ति के लिए

    Advertisement