भारतीय मूल की यह महिला राष्ट्रपति चुनाव में देगी ट्रंप को टक्कर

0
106

अमेरिका की पहली हिंदू सांसद तुलसी गबार्ड के बाद अब भारतीय मूल की पहली अमेरिकी सीनेटर कमला हैरिस ने 2020 के राष्ट्रपति चुनाव में अपनी उम्मीदवारी प्रस्तुत कर दी है। कैलिफोर्निया से डेमोक्रेट पार्टी की सीनेटर कमला ने सोमवार को घोषणा की।

Advertisement

कमला ने मार्टिन लूथर किंग जूनियर की 90वीं जयंती के अवसर पर एक वीडियो जारी कर अपने प्रचार अभियान की शुरुआत की, हैरिस ने एक कार्यक्रम में कहा, ‘मैं राष्ट्रपति पद का चुनाव लड़ने वाली हूं, इसे लेकर मैं बहुत उत्साहित भी हूं।

यदि कमला हैरिस राष्ट्रपति पद के चुनाव में सफलता प्राप्त करती है, तो वह न केवल अमेरिका की पहली महिला राष्ट्रपति होंगी बल्कि वह पहली अश्वेत महिला राष्ट्रपति होंगी। उन्होंने कहा, ‘मैं अपने देश को प्यार करती हूं।यह वक्त का वह लम्हा है, जब मुझे खड़े होने और अपना अपने सर्वश्रेष्ठ के लिए संघर्ष करने की अपनी जिम्मेदारी का अहसास हुआ है।’

वर्ष 2016 में 54 वर्षीय हैरिस सीनेट के लिए निर्वाचित हुई थीं | पॉलिटिको की रिपोर्ट के अनुसार, नवंबर में कराए गए डेमोकेट्रिक वोटर्स के पोल में राष्ट्रपति चुनाव में ट्रंप से मुकाबले के लिए उन्हें 5वीं पसंदीदा नॉमिनी माना गया था|

हालांकि हैरिस राष्ट्रपति उम्मीदवार के लिए घोषणा करने वाली पहली डेमोक्रेट नहीं हैं, अभी कुछ दिनों पहले अमेरिका की पहली हिंदू सांसद गेबार्ड ने भी ऐलान किया था, कि वह अगले साल होने जा रहे राष्ट्रपति चुनाव लड़ेंगी |

कमला हैरिस की मां श्यामला गोपालन हैरिस तमिलनाडु की रहने वाली थीं, कमला के पिता डोनाल्ड हैरिस अफ्रीकी मूल के अमेरिकी थे।  स्तन कैंसर के क्षेत्र में अध्ययनरत प्रसिद्ध वैज्ञानिक श्यामला 1960 में अमेरिका आकर बस गई थीं। जब कमला सात वर्ष की थीं, उसी समय उनके माता-पिता का तलाक हो गया था। अदालत ने कमला के पालन-पोषण का अधिकार उनकी मां को दिया था, मां के संरक्षण में ही कमला ने अपने जीवन को दिशा दी।

Advertisement