छठी लोकसभा चुनाव परिणाम 1977

0
410

कार्यकाल– 23/03/1977 से 22/08/1979

Advertisement

 Sixth Lok Sabha Elections 1977 Result

छठी लोकसभा (1977) के चुनावों में कांग्रेस सरकार द्वारा आपातकाल की घोषणा मुख्य मुद्दा था। इस समय कांग्रेस ने एक मजबूत सरकार की ज़रूरत की बात कहकर मतदाताओं को लुभाने की पूरी कोशिश की, लेकिन लहर इसके विरुद्ध ही चल रही थी। स्वतंत्र भारत में पहली बार ऐसा हुआ, कि कांग्रेस को चुनावों में हार का सामना करना पड़ा। जनता पार्टी के नेता मोरारजी देसाई ने 298 सीटें जीतीं। उन्हें चुनावों से दो महीनें पहले ही जेल से रिहा किया गया। मोरारजी देसाई 24 मार्च को भारत के पहले गैर कांग्रेसी प्रधानमंत्री बनाये गये।

ये भी पढ़े: पांचवी लोकसभा चुनाव 1971

राष्ट्रीय आपातकाल के दौरान 25 जून, 1975 से 21 मार्च, 1977 तक नागरिक स्वतंत्रताओं को समाप्त कर दिया गया। इस समय प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने सभी शक्तियाँ अपने हाथ में ले ली थीं। अपने इस निर्णय की वजह से इंदिरा गांधी काफ़ी अलोकप्रिय भी हुईं और चुनावों में उन्हें इसकी कीमत चुकानी पड़ी। 23 जनवरी को इंदिरा गांधी ने मार्च में चुनाव कराने की घोषणा की और सभी राजनीतिक कैदियों को रिहा कर दिया। चार विपक्षी दलों- कांग्रेस (ओ), जनसंघ, भारतीय लोकदल और समाजवादी पार्टी ने जनता पार्टी के रूप में मिलकर चुनाव लड़ने का फैसला किया।

स्पीकरश्री एन.संजीवा रेड्डी
श्री के.एस.हेगड़े
26/3/1977 से 13/7/1977
21/7/1977 से 21/1/1980
डिप्टी स्पीकर श्री गोदे मुरारी 01/4/1977 से 22/8/1979
सेक्रेटरी -जनरल श्री एस एल शकधर
श्री अवतार सिंह रिखी
23/03/1977 से 18/06/1977
08/06/1977 से 22/08/1979
क्र० सं० पार्टी का नाम सदस्यों की संख्या
1. जनता पार्टी 298
2. कांग्रेस 164
3. भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) 22
4. ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम 19
5. अकाली दल (अकाली दल) 9
6. कम्युनिस्ट पार्टी (CP) 7
7. निर्दलीय (इंडस्ट्रीज़) 7
8. स्वाधीन (स्वाधीन) 6
9. किसानों और मजदूरों की पार्टी ऑफ इंडिया 5
10. क्रांतिकारी सोशलिस्ट पार्टी (RSP) 4
11. ऑल इंडिया फ़ॉरवर्ड ब्लॉक (AIFB) 3
12. केरल कांग्रेस 2
13. मुस्लिम लीग 2
14. राष्ट्रीय सम्मेलन (NC) 2
15. द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (DMK) 1
16. झारखंड पार्टी (झारखंड) 1
17. महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी (MGP) 1

छठी लोकसभा ने 22 अगस्त 1979 तक का अपना कार्यकाल पूरा किया था, जिसमे स्पीकर श्री एन.संजीवा रेड्डी और श्री के.एस.हेगड़े थे| डिप्टी स्पीकर श्री गोदे मुरारी तथा सेक्रेटरी -जनरल श्री एस एल शकधर और श्री अवतार सिंह रिखी को बनाया गया था| इस लोक सभा चुनाव में जनता पार्टी के सदस्यों की संख्या सबसे अधिक 298 थी |

ये भी पढ़े: राष्ट्रीय पार्टियों के नाम और चुनाव चिन्ह

Advertisement