सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट के बारे में जानिए ये महत्वपूर्ण बातें

0
124

केंद्र सरकार ने बेटियों को सुविधा प्रदान करने और उनकी पढ़ाई को लेकर  सुकन्या समृद्धि योजना (एसएसवाई या SSY) पेश की | 10 साल से कम आयु की बच्चियों के लिए यह योजना निकाली गई |

Advertisement

बता दें कि इंडिया पोस्ट या डिपार्टमेंट ऑफ पोस्ट, ये देश का पोस्टल सिस्टम है यह अधिक बचत योजनाओं की पेशकश करता रहता है जिन पर अलग-अलग ब्याज दर प्राप्त कराई जाती है। इन योजनाओं की तरह ही सुकन्या योजना भी है इसका संचालन इंडिया पोस्ट के द्वारा किया जाता है। देश के विशेष बैंकों और पोस्ट ऑफिसेज में छोटी बच्चियों के नाम पर यह खाता खुलवाया जा सकेगा |

इस समय यह योजना लागू हुई

वर्ष 2015  के जनवरी महीने में सुकन्या समृद्ध स्कीम को भारत में पेश किया गया था, जिस पर इस समय 8.5 फीसद (सालाना) की दर से ब्याज दर की सुविधा प्रदान की जा रही है। अगर आपको इसकी जानकारी लेनी है तो आप इंडिया पोस्ट की आधिकारिक वेबसाइट indiapost.gov.in पर जाकर प्राप्त कर सकते है।

कुछ विशेष बाते

इतने खोले जा सकते हैं खाते : 10 साल की कम उम्र वाली बच्ची के लीगल गार्जियन की तरफ से खाता खुलवाया जा सकता है। इस योजना में एक व्यक्ति केवल एक ही खाता खुलवा और उसका संचालन कर सकेगा । अगर किसी के दो बेटियां या उससे अधिक हैं तो वह केवल दो ही खाते खुलवा सकता है | इससे अधिक वह व्यक्ति खाता नहीं खुलवा सकता है | 

आयु: यह खाता व्यक्ति बच्ची के जन्म से लेकर उसके 10 वर्ष तक खुलवा सकता  हैं |

जमा करने रकम : इस योजना के तहत अकाउंट में एक वित्त वर्ष के दौरान न्यूनतम 250 रुपये और अधिकतम 1,50,000 रुपये जमा कराए जायेंगे । इसके अंतर्गत जमा करने वाली रकम 100 के गुणकों में होनी जरूरी है।

कितना दिया जाता है ब्याज: इस खाते में जमा की जाने वाली रकम पर एक वर्ष में 8.5 फीसद की दर से ब्याज दिया जाता है और इसकी गणना भी सालाना आधार पर होती है।

मैच्योरिटी पूर्व निकासी: इस योजना के तहत खाते में मैच्योरिटी पूर्व निकासी की भी सुविधा दी जाती है। जब लड़की की आयु 18 साल से ऊपर हो जायेगी तो वह स्वयं इस रकम को निकालेगी तभी यह रकम खाते से निकाली जा सकेगी | इसके अतिरिक्त 21 साल की उम्र में भी यह रकम निकाली जा सकती है |

मैच्योरिटी पूर्व खाते को बंद करवाना: इंडिया पोस्ट की वेबसाइट के अनुसार यदि   लड़की की उम्र 18 साल से ऊपर हो चुकी है और उसकी शादी भी हो चुकी है | इसके अलावा भी पैसे खाते में पड़े है तो 21 साल तक यह सुविधा दी जायेगी | 21 वर्ष के बाद खाता बंद करवाया जा सकता है।

Advertisement