International Yoga Day 2019 : 21 जून को ही क्यों मनाया जाता है योग दिवस जानिए दिलचस्प वजह, योग दिवस की इस साल की थीम के बारे में

    0
    109

    International Yoga Day 2019 : आजकल अपने शरीर को फिट रखने के लिए योग सभी लोग करते हैं, तो बता दें कि भारत में योगाभ्यास की परंपरा लगभग 5000 साल से चली आ रही  है। इस प्राचीन पद्धति के बारे में देश के हर एक नागरिक जागरूक करने के लिए हर साल 21 जून को इंटरनेशनल योग दिवस मनाया जाता है, इसकी शुरुआत 2015 में कर दी गई थी, इसलिए आप जान लीजिये कि जून महीने में ही योग दिवस क्यों मनाया जाता है?

    Advertisement

    इसे भी पढ़े: International Yoga Day 2019: PM मोदी ने रांची में 40 हजार लोगों के साथ किया योग, बोले- योग भारत की संस्कृति का रहा है हमेशा से हिस्सा

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 में संयुक्त राष्ट्र महासभा को अपने संबोधन के दौरान कहा कि, यही वो दिन है जब उत्तरी गोलार्ध में साल का सबसे लंबा दिन होता है। इस दिन सूर्य जल्दी उगता है और सबसे देर में सूर्यास्त होता है। इसके अलावा भारत में 21 जून ग्रीष्मकालीन संक्रांति का दिन भी होता है।

    क्यों मनाया जाता है योग दिवस

    11 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस या विश्व योग दिवस के रूप में मनाए जाने का ऐलान कर दिया था। इसके बाद से ही सारे देश में 2015 से अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाने लगा है। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सितंबर 2014 में संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित किया था, जिसमें उन्होंने योग के महत्व पर विशेष चर्चा की थी।

    अंतरराष्ट्रीय योग दिवस वर्षवार थीम

    2015: सद्भाव और शांति के लिए योग (Yoga for Harmony and Peace)

    2016: युवाओं को कनेक्ट करें (Connect the Youth)

    2017: स्वास्थ्य के लिए योग (Yoga for Health)

    2018: शांति के लिए योग (Yoga for Peace)

    2019: पर्यावरण के लिए योग (Yoga for Climate Action)

    इसे भी पढ़े: 21 जून: दुनिया भर में हुई आज योग दिवस की शुरुवात जानिए आज के इतिहास की अन्य अहम घटनाएँ

    Advertisement