आशा कार्यकर्त्रियों का आंदोलन रंग लाया, मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने प्रोत्साहन राशि बढ़ायी

0
66


आशा कार्यकर्ती कई दिनों से अपने वेतन में बढ़ोत्तरी के लिए विधानसभा का घेराव कर के आंदोलन कर रही है, चुनावी माहौल में प्रदेश सरकार ने आशा कार्यकर्त्रियों के लिए एक खुशखबरी दी है| इस खुशखबरी में मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने आशा कार्यकर्त्रियों के प्रोत्साहन राशि में बढ़ोत्तरी की है| घोषणा के अनुसार अब सभी आशा कार्यकर्त्रियों को प्रोत्साहन राशि के रूप में 750 रुपये दिए जायेंगे|

Advertisement

सीएम ने कहा कि “सरकारी अस्पतालों में मरीजों को डाक्टर व पैरामेडिकल स्टाफ मिलना चाहिए, ना कि दलाल ” उन्होंने यह भी कहा कि “हमने दवाओं की खरीद में बड़े-बड़े खेल को रोका है”|

मुख्यमंत्री ने यह बात शुक्रवार को लोकभवन में टेलीमेडिसन सेंटर समेत कई परियोजनाओं का लोकार्पण करते हुए की है| इन परियोजनाओं में  102 व 108 एम्बुलेंस सेवा, प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत लाभार्थियों को गोल्डेन कार्ड व आरोग्य कार्ड वितरण, हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर, मातृ एवं शिशु कल्याण स्वास्थ्य इकाई, टेलीमेडिसिन सेंटर एवं टैलीरेडियोलॉजी सेंटर शामिल हैं|

मुख्यमंत्री आयुष्मान भारत के अंतर्गत आरोग्य केंद्रों में कार्यरत जीएनएम व एएनएम कार्यकर्ताओं को टैबलेट भी बाटें है, उन्होंने कहा कि मरीज हॉस्पिटल में जैसे ही आता है, उसे डॉक्टर एयर पैरामेडिकल की सुविधा मिलनी चाहिए| अभी तक मरीजों को दलालों द्वारा प्राइवेट हॉस्पिटल में भेजा जाता था लेकिन अब यह नहीं चल पायेगा| जो भी व्यक्ति इसमें संलिप्त पाया जायेगा उसके विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी|

जिला अस्पतालों का हाल पहले बहुत ही बुरा था लोग यहाँ पर आने से कतराते थे, लेकिन अब यह छवि सुधरनी चाहिए| सीएम ने कहा कि “आशा,आंगनबाड़ी कर्मियों ने टीकाकरण अभियान को निचले स्तर तक ले जाने का काम किया है”| इनके कार्य को देखते हुए आशा कार्यकर्त्रियों को प्रोत्साहन राशि के रूप में 750 रुपये दिए जायेंगे|

Advertisement