आम आदमी पार्टी स्थापना

0
509

Aam Aadmi Party

Advertisement

आम आदमी पार्टी जिसे संक्षेप में ‘आप’ के नाम से जाना जाता है, यह पार्टी सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे के लोकपाल आंदोलन में सहयोगी की भूमिका निभाने वाले अरविंद केजरीवाल और कई सहयोगियों के द्वारा भारत को भ्रष्टाचार से मुक्त करने के लिए गठित की गयी थी| इसकी स्थापना 26 नवम्बर 2012 को भारतीय संविधान अधिनियम की 63 वीं वर्षगाँठ के अवसर पर जंतर-मंतर, दिल्ली में की गयी थी|

चुनाव चिन्ह  (Election Symbol)

आप पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल और कई सहयोगियों ने भ्रष्टाचार को देश से साफ़ करने के लिए आधिकारिक चुनाव चिन्ह ‘झाड़ू’ को चुना| आप पार्टी ने अपने नारे में कहा कि झाड़ू चलाओं, बेईमानी भगाओं|

ये भी पढ़े: राष्ट्रीय पार्टियों के नाम और चुनाव चिन्ह

आप का इतिहास (History Of Party)

26 नवंबर 2012 को AAP को औपचारिक रूप से लॉन्च किया गया| मार्च 2013 में चुनाव आयोग ने आप पार्टी को मान्यता दी| आम आदमी पार्टी ने वर्ष 2013 के दिल्ली विधानसभा चुनावों में भाग लिया| इस चुनाव में आप को 70 में से 28 सीटें प्राप्त हुई थी| लेकिन दिल्ली में सरकार बनाने के लिए 35 सीटें चाहिए होती है, आप पार्टी ने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के बाहरी समर्थन के द्वारा सरकार का गठन किया| 28 दिसंबर 2013 को, पार्टी के संस्थापक अरविंद केजरीवाल ने नई दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली |

यह सरकार सही ढंग से अगले 49 दिन तक ही चल पायी| कांग्रेस और आप के बीच हो रहे मतभेद के कारण अरविंद केजरीवाल ने इस्तीफा दे दिया|

किसी दल को बहुमत न मिल पाने के कारण विधान सभा भंग कर दी गयी| इसके बाद मध्यवती चुनाव कराएं गए| इस चुनाव में आम आदमी पार्टी को 70 में से 67 सीटें मिली तब से अभी तक यह सरकार कार्यरत है |

AAP पार्टी का वर्ष वार लोकसभा और विधानसभा चुनाव परिणाम

लोकसभा (Lok Sabha)

राज्य नवीनतम वर्ष सीटें जीता
दिल्ली 2014 0
पंजाब 2014 4

विधानसभा (Vidhan Sabha)

राज्य नवीनतम वर्ष सीटें जीता
दिल्ली 2015 67
पंजाब 2012 0

AAP पार्टी का संपर्क

पता: आम आदमी पार्टी, ग्राउंड फ्लोर, A-119, कौशाम्बी, गाजियाबाद – 201010

हेल्पलाइन: +91 – 9718500606

ईमेल आईडी: [email protected]

दान ईमेल आईडी: donation-aamaadmiparty.org

फेसबुक: https: //www.facebook .com / AamAadmiParty

ट्विटर पर: https://twitter.com/AamAadmiParty

ये भी पढ़े: भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की स्थापना

Advertisement