12th के बाद भी अब कर सकते है बीएड, एनसीटीई ने लगाई इस पर मुहर

आज के समय में टीचर की सैलेरी ने इस करियर में चार चाँद लगा दिए है | अधिकतर युवा इस फील्ड में आना चाहते है | अभी तक इस फील्ड में जाने के लिए बीएड, बीटीसी (डीएलएड) कोर्स ही था | इन कोर्स के लिए छात्रों को स्नातक उत्तीर्ण होना आवश्यक था इसके बाद ही वह इसमें एडमिशन ले सकते थे | अब छात्रों को स्नातक तक का इन्तजार नहीं करना पड़ेगा वह 12वीं के बाद स्नातक के साथ ही इंटीग्रेटड टीचर एजुकेशन प्रोगाम यानी आईटीईपी कोर्स कर पाएंगे |

ये भी पढ़ें: UP Board Result 2019 : रिजल्ट को लेकर कोई भी शिकायत हो तो कर सकते है यहाँ पर इमेल

राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) ने 2019-23 के लिए पहला सत्र इंटीग्रेटड टीचर एजुकेशन प्रोगाम (आईटीईपी) को लांच किया है | इस कोर्स में छात्र 12वीं के बाद प्रवेश ले सकते है |

आईटीईपी के लिए योग्यता

आईटीईपी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए छात्र के इंटरमीडिएट में 50 प्रतिशत अंक होने अनिवार्य है | 50 प्रतिशत से कम अंक वाले छात्र इसमें प्रवेश नहीं ले पाएंगे | इस वर्ष इंटरमीडिएट में कुल 70.06 फीसदी बच्चे पास हुए हैं |

ये भी पढ़े: UPMSP रिजल्ट 2019: UP Board Result 10वीं-12वीं का अपना परिणाम, ऐसे करें चेक

आवेदन की संभावित तिथि

आईटीईपी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए पिछले वर्ष 3 दिसंबर 2018 से 21 दिसंबर 2018 के बीच आवेदन मांगे गए थे | इस वर्ष भी इन्हीं दिनों में एडमिशन लेने की मांग की जा सकती है | एनसीटीई की ऑफिशियल वेबसाइट http://ncte-india.org के माध्यम से आप अधिक जानकारी ले सकते है |

इंटीग्रेटड टीचर एजुकेशन प्रोगाम

इंटीग्रेटड टीचर एजुकेशन प्रोगाम (आईटीईपी) एक चार वर्षीय कोर्स है | इस कोर्स को  8 सेमेस्टर में बांटा गया है | इन सेमेस्टरों में फील्ड एक्सपीरिएंस, टीचिंग प्रैक्टिस और इंटर्नशिप पर जोर दिया जायेगा | छात्र इसे अधिकतम 6 साल में पूरा कर सकता है | यदि किसी सेमेस्टर में बैक लग जाती है तो वह इसके लिए दोबारा आवेदन कर सकते है | आईटीईपी कोर्स के साथ बीएड और डीएलएड कोर्स भी चलते रहेंगे |

ये भी पढ़ें: UP बोर्ड रिजल्ट 2019: 10वीं और 12वीं में फेल छात्र इसी वर्ष होंगे पास,…