सावधान: आपकी हर एक्टिविटी पर नज़र रख रहा है Google

गूगल आज हमारी जिंदगी अहम हिस्सा बन चुका है । गूगल यूजर्स को बहुत से ऐसी सर्विस देता है, जिससे हमारे प्रतिदिन के अनेको कार्य काफी सरलता से हो जाते हैं, लेकिन गूगल को लेकर एक ऐसी चौंकाने वाली खबर सामने आई है, जिसके बारे में जान कर आप दंग रह जाएंगे। गूगल ने आपके स्मार्टफोन से लेकर स्मार्ट डिवाइसिस तक सभी का एक्सैस लिया हुआ है, जिससे गूगल के कर्मचारी आपके बेडरूम की पर्सनल बातों को भी सुननें के साथ ही रिकार्ड भी कर रहे है। इस खबर के सामने आने के बाद यूजर्स की सुरक्षा को लेकर अनेक प्रश्न खड़े हो गए हैं। आइए जानते हैं, कि कैसे गूगल के पास अपने यूजर्स की लगभग सारी डिटेल मौजूद रहती है ? और वह किन-किन चीजों पर नजर रखता है।

ये भी पढ़े: फिंगरप्रिंटिंग क्या है | कैसे करती है काम जानिए इसके बारे में सब कुछ यहाँ

1.आप ऑफिस के लिए कब निकलते है

आप ऑफिस जाने के लिए नजदीकी मेट्रो स्टेशन जाते हैं, तो रास्ते में आप मोबाइल में खबरें पढ़ते हैं और म्यूजिक सुनते हैं।

2.मेट्रो का रूट

गूगल मैप्स आपकी लोकेशन को ट्रैक कर जीपीएस आपके IP एड्रेस के साथ कोर्डिनेट करता है, यह आपको ट्रैक करने के लिए करीब के सेल टावर्स और Wi-Fi एक्सेस पॉइंट का भी उपयोग कर सकता है।

3.पसंदीदा खबरें

गूगल आपकी सर्च हिस्ट्री को रिकॉर्ड करता है, और आपकी दिलचस्पी की जानकारी करता है, उसी के अनुसार वह आपको  विज्ञापन, खबरें उपलब्ध कराता है।

4.आपकी पसंद का म्यूजिक

गूगल सर्च की तरह म्यूजिक ऐप इस चीज को रिकॉर्ड करता है, कि आपको किस तरह का म्यूजिक पसंद हैं, और आपकी पसंद के अनुसार वह आपका प्रोफाइल बनाता है और आपको टारगेटेड ऐड भेजता है।

5.आपके लोकेशन का डेटा

गूगल आपके बारे में इतना डेटा जुटा लेता है, कि यह आपको बताता है कि आप इस समय वॉक कर रहे हैं, दौड़ रहे हैं या किसी गाड़ी में सफ़र कर रहे है।

6.क्रेडिट और डेबिट कार्ड का विवरण

गूगल प्ले के पास आपके क्रेडिट और डेबिट कार्ड के डीटेल्स के साथ ही आपने क्या प्रॉडक्ट खरीदा है, इसका डेटा भी गूगल पे के पास रहता है। यह लोकेशन और दुकानदार का डेटा भी रखता है, यह आपको इसी हिसाब से टारगेटेड ऐड भेजता है।

7.ई-मेल को स्कैन करता है गूगल

आपकी दिलचस्पी का पता लगाने के लिए गूगल आपके ई-मेल को स्कैन करता है। गूगल आपके ई-मेल के कंटेंट के आधार पर विज्ञापन कस्टमाइज कर आपको भेजता है।

8.आपके पसंदीदा वीडियो पर विशेष नजर 

आप किस तरह के वीडियो पसंद करते है अथवा देखते हैं, यू ट्यूब प्लेटफॉर्म इस बात को रिकॉर्ड करता है साथ ही इसकी भी जानकारी रखता है, कि आप वीडियो कब और कहा देखते हैं।

9.थर्ड पार्टी ऐप्स की भी जानकारी

ऐंड्रॉयड डिवाइस पर अगर आप थर्ड-पार्टी ऐप्स का इस्तेमाल करते हैं तो भी गूगल के पास इसकी जानकारी होती है।

10.नॉन-गूगल ऑपरेटिंग सिस्टम

नॉन-गूगल ऑपरेटिंग सिस्टम पर भी गूगल की पहुंच आपके डेटा तक रहती है।

ये भी पढ़े: अगर आप फ्री वाई-फाई का उपयोग करते है तो जान ले ये बात