आजमगढ़ लोकसभा सीट: बीजेपी को लगा झटका, रमाकांत यादव कांग्रेस में हुए शामिल

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता रमाकांत यादव ने कांग्रेस में शामिल हो गये है । बीजेपी ने आजमगढ़ लोकसभा सीट से दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ को प्रत्याशी बनाया है| ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है, कि  निरहुआ को सीट मिलने से रमाकांत यादव नाराज थे | आजमगढ़ पूर्वांचल की एकमात्र ऐसी सीट थी, जहा 2014 लोकसभा चुनाव में मोदी लहर भी नहीं काम कर पाई |

ये भी पढ़ें:आजमगढ़ लोकसभा सीट पर अब तक का क्या रहा इतिहास – किनके बीच है इस बार ज़बरदस्त मुकाबला – जाने यहाँ

आजमगढ़ जिले में यादव और मस्लिम जनसंख्या अधिक है|  वर्ष 2014 के चुनाव में समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने जीत दर्ज की थी| सबसे खास बात यह है, कि बीजेपी से आजमगढ़ लोकसभा के प्रत्याशी निरहुआ ने जल्द ही रमाकांत यादव से मुलाकात की थी, और उन्होंने फेसबुक अकाउंट से लिखा था, ‘शेर-ए-पूर्वांचल रमाकांत यादवजी के आशीर्वाद और समर्थन से आजमगढ़ में कमल खिलेगा। फिर एकबार मोदी सरकार।’    

रमाकांत यादव का सफर वर्ष 1996 में समाजवादी पार्टी से शुरू हुआ और उन्होंने समाजवादी पार्टी से 1999 में जीत हासिल की| वह 2004 में बीएसपी में शामिल हो गये और चुनाव में जीत दर्ज की। बीजेपी ने 2009 के लोकसभा चुनाव में प्रत्याशी बनाया, जिसमें इनकी जीत हुई |  2014 के लोकसभा चुनाव में भी भारतीय जनता पार्टी से चुनाव लड़ा परन्तु सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने जीत दर्ज की |

ये भी पढ़ें: आजमगढ़ लोकसभा सीट क्यों बन गई है इस बार दिलचस्प – समझिये यहाँ के चुनावी समीकरण को