NRC को लेकर BJP नेता कपिल मिश्रा ने केजरीवाल और विधायक सौरभ के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत

दिल्ली विधानसभा चुनाव-2020 में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर बड़ा चुनावी मुद्दा बनता नजर आ रहा है। बुधवार 25 सितंबर को एनआरसी को लेकर  बैठक आयोजित की गई, जिसमें चर्चा के दौरान CM केजरीवाल ने बयान देते हुए कहा है कि, ‘दिल्ली में एनआरसी लागू होगा तो सबसे पहले भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी को दिल्ली छोड़नी होगी’ पर सियासत तेज हो गई है।

इसे भी पढ़े: NRC पर CM केजरीवाल के बयान पर मनोज तिवारी ने बोला हमला, जानें क्या कहा

वहीं गुरूवार 26 सितंबर को घटनाक्रम में भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और विधायक सौरभ भारद्वाज के खिलाफ पार्लियामेंट स्ट्रीट थाने में शिकायत दर्ज  करा दी है। इस शिकायत में भाजपा नेता कपिल मिश्रा के साथ नीलकांत बख्शी भी शामिल हैं|

मीडिया से मिली जानकारी के मुताबिक, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल तथा विधायक सौरभ भारद्वाज के ख़िलाफ़ अफवाह फैलाने, शांति भंग करने का प्रयास करने, जानबूझकर सोशल मीडिया के माध्यम से झूठ प्रचारित करने के साथ दिल्ली में रह रहे यूपी बिहार के निवासियों की भावनाओ को चोट पहुंचाने की भी शिकायत दर्ज हुई है।

आम आदमी पार्टी (AAP) के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने आरोप लगाया था कि, ‘दिल्ली में एनआरसी लागू कर भाजपा यहां से बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों को भगाना चाहती है। एनआरसी में 1971 से पहले के आवासीय प्रमाण पत्र वालों को ही दिल्ली का माना गया है। उन्होंने कहा कि मैं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी से पूछना चाहता हूं कि क्या उनके पास 1971 से पहले का दिल्ली का आवासीय प्रमाण पत्र है? भाजपा किसी न किसी तरह से उत्तर प्रदेश और बिहार के गरीब और मासूम लोगों को अपना निशाना बनाने का षड्यंत्र करती रहती है।”

इसे भी पढ़े: केजरीवाल सरकार ने दिल्‍ली के किरायेदारों को दिया बड़ा तोहफा, सस्ती बिजली के लिए लगेंगे प्रीपेड मीटर