बीजेपी एमएलए कृष्णानंद राय हत्याकांड: स्पेशल सीबीआई कोर्ट ने मुख्तार अंसारी समेत 5 आरोपियों को किया बरी

कृष्णानंद राय मर्डर केस: साल 2005 में बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय की  हत्या के मामले गिफ्त्तर आरोपियों को रिहाई मिल गई है| जानकारी देते हुए बता दें कि, स्पेशल सीबीआई कोर्ट ने बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय की हत्या के मामले में पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी के साथ-साथ गिरफ़्तार हुए सभी आरोपियों को बरी कर दिया है| राय गाजीपुर जिले की मोहम्दाबाद विधानसभा से विधायक थे |

इसे भी पढ़े: चांदनी चौक मंदिर विवाद पर ऐक्‍शन में दिखे अमित शाह, पुलिस कमिश्‍नर को किया तलब

कैद से रिहा हुए मुख्तार अंसारी मऊ निर्वाचन क्षेत्र से विधान सभा के सदस्य के रूप में पांच बार विधायक  के पद को हासिल किया हैं| अंसारी ने 1996 में पहली बार बसपा की टिकट पर चुनाव लड़ते हुए उसमें जीत हासिल कर ली थी| इसके बाद उन्होंने 2002 में और 2007 में  निर्दलीय होकर चुनाव लड़ा और दोनों बार जीत दर्ज की|

वर्ष 2007 में वह पुनः बसपा से जुड़ गए और बसपा ने उन्हें 2009 के लोकसभा चुनाव में वाराणसी की सीट से टिकट दिया परन्तु उस समय वह  उसमें अपनी जीत दर्ज करने में नाकाम रहें| बता दें, कि मुख्तार अंसारी का पूर्वांचल में एक अलग रुतबा रहता है| यही वजह है, कि बसपा ने उन्हें पार्टी से निकाल दिया था, लेकिन उनके कद को देखते हुए दोबारा पार्टी के टिकट से चुनाव  मैदान में उतारा गया|  

इसे भी पढ़े: राहुल गांधी ने एक बार फिर कहा – मैं अब कांग्रेस अध्यक्ष नहीं, जल्द कराया जाये इस पद का चुनाव