ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का परीक्षण हुआ सफल, दुश्मन के ठिकानों को पलक झपकते ही करेगी नष्ट

सोमवार 30 सितंबर को रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन ने ओडिशा तट से जमीन पर मार करने वाली ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण कर लिया है। वहीं जानकारी देते हुए बता दें कि, यह मिसाइल 8.4 मीटर लंबी और 0.6 मीटर चौड़ी है जो 300 किलोग्राम वजन तक विस्फोटक ले जाने में सक्षम  है | इस मिसाइल का वजन तीन हजार किलोग्राम है और 350 किलोमीटर तक मार करने में सफल रहेगा | यह आवाज की गति से भी 2.8 गुना तेज गति से मार करती है। 

इसे भी पढ़े: पाकिस्तान ने बौखलाहट में आकर बैलिस्टिक मिसाइल गजनवी का किया परीक्षण

इस मिसाइल को किसी भी दिशा में एक लक्ष्य करके छोड़ सकते है। यह मिसाइल घनी शहरी आबादी में भी छोटे लक्ष्यों को सटीकता से  पार करने में सफलता हासिल कर सकती है। दो चरणीय मि‍साइल में ठोस प्रोपेलेट बुस्टर और एक तरल प्रोपेलेट रैम जैम सिस्टम  लगाया गया है। इससे पहले ब्रह्मोस का पहला परीक्षण 12 जून 2001 को चांदीपुर से किया गया था। इसकी सटीकता का अनुमान आसानी से लगाया जा  सकता है, कि यह जमीनी लक्ष्य को 10 मीटर की ऊंचाई तक से भेद सकती है। वहीं, इस मिसाइल को पहले ही सेना में शामिल कर लिया गया है| 

इसे भी पढ़े: पाकिस्तान ने कराची एयरस्पेस किया बंद, मिसाइल टेस्‍ट की दी चेतावनी