चैत्र नवरात्री 2019: जानें कब लगेगी नवमी, कन्या पूजन विधि

    भारत में भगवान  राम के जन्म दिवस को बहुत ही हर्षोउल्लास से मनाया जाता है | आज 13 अप्रैल, शनिवार को महानवमी का व्रत है  क्योंकि 13 अप्रैल को सुबह 08:16 बजे के बाद ही नवमी तिथि लगी है जो 14 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक ही रहेगी | रामनवमी के दिन भगवान श्रीराम की पूजा-अर्चना करने से विशेष पुण्य मिलता है | 12 अप्रैल 2019 दिन शुक्रवार को सुबह 10:18 बजे से 13 अप्रैल दिन शनिवार को सुबह 08:16 बजे तक अष्टमी तिथि थी |

    ये भी पढ़ें: चैत्र नवरात्रि 2019: अष्टमी और नवमी तिथि से कब मनाई जाएगी रामनवमी

    अयोध्या में राजा दशरथ के घर राम नवमी के ही दिन त्रेता युग में भगवान विष्णु जी ने अवतार लिया था | इस अवतार को भगवान श्री राम के नाम से जाना जाता है | नवरात्र के व्रत के बाद राम नवमी आती है इस दिन उपवास और ब्राह्मणों को भोजन कराना भी बहुत फलदायक है |

    कन्या पूजन

    नवरात्र के बाद कन्या पूजन किया जाता है | कन्या पूजन के लिए कन्याओं को आमंत्रित किया जाता है | जब कन्या आती है तो उनका स्वागत किया जाता है और उनके पैर धोएं जाते है और उन्हें भोजन करवाया जाता है | भोजन में मिष्ठान और फल खिलाया जाता है | भोजन करने के बाद सभी कन्याओं को उपहार दिया जाता है | उपहार देने के बाद उन्हें घर तक पहुंचाया जाता है | आप किसी भी वर्ण, जाति और धर्म की कन्या को कन्या पूजन के लिए आमंत्रित कर सकते है | आप नौ या नौ से अधिक कन्याओं को नौ के गुणात्मक क्रम में भी आमंत्रित कर सकते हैं |

    ये भी पढ़ें:  विदुर की इन 6 नीतिगत बातों को अपनाकर आप भी पा सकते है जीवन के हर क्षेत्र में मन चाही सफलता