मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नें NRC को लेकर दिया बड़ा बयान, कहा – ‘जरूरत पड़ी तो UP में भी लागू करेंगे’

असम राज्य में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के लागू होने की प्रक्रिया पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  नें काफी करते हुए दिखाई दिए है, उन्होंने इसको लेकर स्पष्ट कहा कि, “अगर जरूरत पड़ी तो वह अभियान चलाकर उत्तर प्रदेश में भी इसको लागू कराएंगे।”

इसे भी पढ़े: सीएम योगी आदित्यनाथ ने चित्रकूट को दी करोडो की सौगात, कहा- ‘पीएम नरेंद्र मोदी भी चित्रकूट को लेकर काफी गंभीर है’

असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर के लागू होने की प्रशंसा करते हुए कहा सीएम ने कहा कि, अगर जरूरत पड़ी तो वह उत्तर प्रदेश में इसी तरह का बड़ा अभियान चलाएंगे, उन्होंने कहा कि, ‘कोर्ट के आदेश को लागू करना साहसिक निर्णय है। हम लोगों को प्रधानमंत्री और गृहमंत्री को इसके लिए बधाई देना चाहिए।

अगर जरूरत पड़ी तो हम उत्तर प्रदेश में भी ऐसा करेंगे। उन्‍होंने आगे कहा कि, असम में जिस तरह से एनआरसी को लागू किया गया है, वह सीखने वाला है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि असम एनआरसी से एक अनुभव लेते हुए हम भी यूपी में इसकी शुरुआत कर सकते हैं। यह भारत की सुरक्षा के लिहाज से बेहद ही महत्वपूर्ण हैं।

भाजपा के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने राजधानी में भी इस अभियान के लिए मांग की है। रविवार 15 सितंबर को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि, वह कानूनी विकल्प तलाश रहे हैं, ताकि इसे अपने राज्य में लागू कर सकें।

इसे भी पढ़े: सीएम योगी आदित्यनाथ आज करेंगे सोनभद्र का दौरा, नरसंहार पीडि़तों को देंगे जमीन का पट्टा