कोरोना के बढ़ते मामले को देख BMC की मेयर ने दिया यह सुझाव, अब मुंबई में कंप्लीट लॉकडाउन लगकर रहेगा ?

0
181

महाराष्ट्र में नाइट कर्फ्यू, वीकेंड लॉकडाउन और अब मिनी लॉकडाउन के बावजूद भी कोरोना संक्रमण की रफ्तार धिमी नहीं हो रही है। महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई की हालत सबसे अधिक प्रभावित है, जहां पर पिछले दिन शुक्रवार को लगभग नौ हजार संक्रमित मिलने से हड़कंप मच गया। इस दौरान मुंबई में बढ़ते कोरोना मामलों को देख कर पूर्ण लॉकडाउन की आहट सुनाई दे रही है। बीएमसी की मेयर किशोर पेडनेकर ने खुद भी कहा है, कि मौजूदा हालातों को देख कर मुंबई में लॉकडाउन लगाना ही एक मात्र रास्ता है।

Advertisement

यूपी पंचायत चुनाव 2021 :

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, बीएमसी की मेयर किशोर पेडनेकर ने बताया कि मुंबई में लगभग 95% लोग कोरोना प्रोटोकॉल का पालन कर रहे हैं। मात्र 5% लोग ही हैं, जो कोरोना प्रोटोकॉल का पालन नहीं कर रहे हैं, वे खुद तो परेशान हो रहे हैं और साथ ही दूसरों को भी परेशान कर रहे हैं। मुझे लगता है कि कोरोना संक्रमण की मौजूद स्थिति को देखते हुए मुंबई में पूर्ण लॉकडाउन लगा दी जानी चाहिए।

आप को बता दें कि पिछले 24 घंटे में महाराष्ट्र में में कोरोना के रिकॉर्ड 63,729 मामले सामने आए हैं तो लगभग 398 मरीजों की मौत हो चुकी है। ये रिकॉर्ड महामारी की शुरुआत के पश्चात से सबसे अधिक हैं। शुक्रवार को 63,729 मामले सामने आने के पश्चात राज्य में अब तक कुल 37,03,584 लोग संक्रमित हो गए हैं। वहीं, 398 लोगों की मौत के पश्चात कोरोना संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़कर 59,551 हो चुकी है। इस समय 45,335 लोगों को डिस्चार्ज किया गया है। अब तक कुल 30,04,391 लोग कोरोना वायरस से ठीक हो चुके हैं, तो अभी 6,38,034 मरीजों का इलाज हो रहा है।

लखनऊ में DRDO की टीम दो कोविड हॉस्पिटल तैयार करेगी

जबकि, मुंबई में शुक्रवार को कोरोना मामलों में मामूली गिरावट नज़र आयी है। देश की आर्थिक राजधानी में पिछले 24 घंटे में 8839 लोग संक्रमित मिले तो 53 लोगों की मौत भी हुई है। मुंबई में अब तक कुल 5,61,998 लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ गये हैं तो कुल 12,242 लोगों की मौत हो चुकी है। यहां अब तक 4,63,344 लोग संक्रमण से ठीक हो चुके हैं, तो 85,226 लोगों का इलाज हो रहा है।

UP Board Exams 2021 Postponed:

Advertisement