अब सरकारी अस्पतालों की मदद हेतु दवा सप्लाई करेंगे ह्यूमनॉयड रोबोट

कोरोना वायरस के कहर को देखते हुए तमिलनाडु के त्रिची की एक निजी सॉफ्टवेयर कंपनी ने ह्यूमनॉयड रोबोट दान किए है, जिससे सरकारी अस्पतालों में भर्ती कोरोना वायरस के मरीजों तक दवाइयां पहुंचाने में मदद मिलेगा । कोरोना वायरस के आइसोलेशन वार्ड में मरीजों को दवाई देने का काम ह्यूमनॉइड रोबोट करेंगे । अभी हल में  4 रोबोट उपयोग के लिए बनाये गये हैं । अस्पताल के डीन ने कहा कि-“जिला प्रशासन के आदेश देने के पश्चात ही इन रोबोट का प्रयोग होगा ।”

क्या स्विमिंग पूल में नहाने से कोरोना वायरस फैल सकता है?

विचारणीय है कि चीन के वुहान से शुरुआत हुआ कोरोना वायरस ने वर्तमान समय में हाहाकार मचा दिया है । कोरोना वायरस के कारण से पूरे विश्व में लगभग 33,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है | जिसमें अकेले यूरोप में  लगभग 20,000 लोगों की मौत हो चुकी है । वहीं पूरे विश्व भर में लगभग 7 लाख से ज्यादा मरीज देखने को मिले हैं । इस वायरस से स्पेन और इटली में 24 घंटे में लगभग 800 से ज्यादा मौतें हो गयी है । कोरोना वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए पूरे विश्व की आबादी का लगभग एक तिहाई भाग लॉकडाउन है।

कोरोना से लड़ने के लिए रेलवे का मिला साथ

बता दें कि पूरे विश्व भर में अमेरिका कोरोना वायरस के कहर से सबसे ज्यादा संक्रमित है । अमेरिका में अब तक कोरोना से संक्रमित लगभग 142,000 से ज्यादा मरीज मिलें हैं जबकि इस वायरस से लगभग 2400 से अधिक मौतें हो गयी है । भारत की बात की जाये तो कोरोना वायरस से ग्रसित लोगों की संख्या बढ़कर रविवार को लगभग 1000 के पार हो गया है और इस वायरस से मरने वालों का संख्या बढ़कर तक़रीबन 27 पहुँच गया है |

कोरोना वायरस: अमेरिका में मचा हाहाकार पिछले 24 घंटे में हुई 345 मौतें