नवरात्री में मधुमेह रोगी रहे सावधान, ये लक्षण दिखते ही तुरंत तोड़ दें व्रत

Diabetes patients should be careful in Navratri: अब नवरात्र शुरू होने के कुछ ही दिन बाकी रह गए हैं, क्योंकि इस बार 29 सितंबर से नवरात्र शुरू हो रहें है| इस दौरान उपवास रखने की सोच रहे मधुमेह रोगियों को पहली बार डॉक्टरों ने चेतावनी देते हुए कहा है कि, शुगर का स्तर 70 एमजी से कम होते ही वे उपवास तोड़ दें। इस संबंध में उन्होंने पूरा  दिशा-निर्देश भी तैयार किए हैं।

इसे भी पढ़े: शाम को व्यायाम करना भी सेहत के लिए फायदेमंद है, जानिए क्या कहती है ये नई रिसर्च

इन दिशा-निर्देशों को जर्नल ऑफ एसोसिएशन ऑफ फिजिशियन ऑफ इंडिया में प्रकाशित भी किया गया है। इसके मुताबिक, उपवास के दौरान बीच-बीच में ब्लड शुगर जांचते रहना चाहिए, परिजनों को भी बीमारी की जानकारी देनी चाहिए।’

जो लोग टाइप-2 मधुमेह के शिकार हैं और जिनका ब्लड शुगर स्थिर बना रहता है, वे उपवास कर सकते हैं, लेकिन उपवास शुरू करने से पहले अप्रसंस्कृत अनाज, फल, नट्स,दालें और प्रोटीन युक्त आहार लेने चाहिए, ताकि शरीर को समय-समय पर ऊर्जा मिलती रहे। 

डॉक्टरों ने दिशा-निर्देश में पाया है कि, 6.92 करोड़ भारतीय वर्ष 2015 में मधुमेह रोगी थे। 

1.साल 2017 में 7.29 करोड़ भारतीय मधुमेह रोगी थे। 

 2.साल 2018 में 40.6 करोड़ लोग विश्व में मधुमेह का शिकार थे।  

3. वर्ष 2030 तक 9.8 करोड़ भारतीयों के मधुमेह से पीड़ित होने का अनुमान

4. वर्ष 2030 तक 51.1 करोड़ लोगों के विश्वभर में मधुमेह पीड़ित होने का अनुमान 

5.बारह साल में दुनिया में मधुमेह रोगियों की संख्या 20 फीसदी से ज्यादा बढ़ने की आशंका

इसे भी पढ़े: तनाव से रहना चाहते है दूर, तो डाइट में शामिल करें ये सुपर फूड