Election 2019: बंगाल में प्रचार पर लगा दी गई रोक – कांग्रेस ने ‘लोकतंत्र के इतिहास का काला दिन’ बताया

0
367

Election 2019: बंगाल में भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान हिंसा का कहर उमड़ पड़ा था जसिके तहत 16 मई की रात को ही चुनाव आयोग द्वारा पश्चिम बंगाल में  चुनाव प्रचार रोकने का आदेश दे दिया था| इस पर कांग्रेस ने सवाल करते दावा किया कि, आज ‘लोकतंत्र के इतिहास का काला दिन’ है, क्योंकि आयोग ने प्रक्रिया का पालन नहीं करते हुए सिर्फ प्रधानमंत्री मोदी  को रैलियों की इजाजत दी है|

Advertisement

इसे भी पढ़े: ममता बनर्जी मीम मामले में प्रियंका शर्मा की रिहाई न करने पर नाराज सुप्रीम कोर्ट, पूछा – हमारे आदेश से बड़ा है?

वहीं कांग्रेस पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एक बयान देते हुए  कहा, ‘लोकतंत्र के इतिहास में आज काला दिन है| पश्चिम बंगाल पर चुनाव आयोग के आदेश में अनुच्छेद 14 और 21 के अंतर्गत जरूरी प्रक्रिया का अनुपालन नहीं हुआ है| आयोग ने सबको समान अवसर देने के संवैधानिक कर्तव्य का निर्वहन भी नहीं किया| यह संविधान के साथ किया अक्षम्य विश्वासघात है’|

इसके साथ ही उन्होंने दावा करते हुए कहा कि, ‘प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह के खिलाफ चुनाव आयोग में 11 शिकायतें की हैं, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई| भाजपा द्वारा हिंसा की गई और अमित शाह द्वारा धमकाया गया, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई| अब मोदी जी को 16 मई को रैलियों की इजाजत दी गई और दूसरे सभी लोगों को प्रतिबंधित कर दिया गया| कभी एक स्वतंत्र संवैधानिक इकाई रही संस्था में शर्मनाक गिरावट है’|

इसे भी पढ़े: बंगाल हिंसा पर TMC ने BJP पर लगाए आरोप कहा – बंगाल के बाहर से बुलाए थे गुंडे

Advertisement