बुखार में ज़बरदस्त तरीके से मदद करती है धनिया पत्ता की चाय, जानें ऐसे ही अन्य घरेलू नुस्खों के बारे में

0
343

आप अक्सर लोगो को बुखार आ जाने पर वो डॉक्टर के पास जाने के बजाय केमिस्ट से ही पेन किलर या फिर बुखार की गोली लेकर खा लेते हैं, जिससे उन्हें बुखार में राहत मिल जाती हैं, लेकिन ऐसा करना कभी-कभी खतरा भी बन सकता है| इन दिनों चमकी बुखार का काफी कहर चल रहा है| यह बुखार पूरे शरीर पर अपना कब्जा किये हुए है। बता दें, कि बिहार में कई बच्चे इस बुखार की चपेट में आकर अपनी जान गँवा चुके हैं, इसलिए एक सामान्य से दिखने वाले बुखार को भी हल्के में  नहीं कभी भी नहीं लेना चाहिए |

Advertisement

इसे भी पढ़े: गर्मियों में फ्रेश और खूबसूरत दिखने के लिए अपनाये ये स्किन केयर टिप्स

बुखार में शरीर का तापमान बहुत अधिक बढ़ जाता है और बुखार आ जाने की वजह से हड्डियों में भी काफी दर्द होने लगता है। इस तरह में खाने-पीने का मन बहुत कम करता है,  इसलिए बुखार आ जाने पर डॉक्टर के पास जरूर जाना चाहिए इसके अलावा कुछ घरेलू नुस्खों को अपनाने से बुखार में काफी राहत मिल सकती है।

इन नुस्खों को अपनाये 

1- बुखार में आ जाने पर भरपूर मात्रा में पानी व अन्य तरल पदार्थ का सेवन करें, क्योंकि शरीर में पानी की कमी हो जाती है।  

2-  बुखार आ जाने पर ठन्डे पानी की जगह हल्के गरम पानी से नहाना चाहिए, इससे शरीर का तापमान सामान्य हो जाता है। 

3- बगल, गर्दन, पैरो के तलवे और हाथों पर स्पंज बाथ देने से भी बुखार में  काफी राहत मिल जाती है। 

4- बुखार में शराब और कॉफी का सेवन कम करना चाहिए ,क्योंकि इनसे शरीर में डिहाइड्रेशन की समस्या हो जाती है।

5- बेसिल: बेसिल यानी तुलसी की पत्तियों को बुखार होने पर रोजाना तुलसी की चाय दो बार पिएं और उन्हें पानी में उबालकर भी उसका सेवन करें, इससे बुखार में आराम मिलता है|

6- लहसुन: लहसुन की तासीर गरम होती है, और इसमें ऐंटी-बैक्टीरियल और ऐंटी-फंगल तत्व होते हैं, जो इंफेक्शन तो दूर रखने के साथ -साथ शरीर के तापमान को भी कम करने में मददगार साबित होते हैं।

7- धनिया पत्ता की चाय:  धनिया पत्ता को सदियों से बुखार, उल्टी और कंपन के इलाज में प्रयोग किया जाता रहा है। इसका प्रयोग करने के लिए धनिया पत्ता को पानी में उबालकर काढ़े के तौर पर इस्तेमाल करें| इसके अतिरिक्त  इसकी चाय बनाकर भी पी सकते है। चाय बनाने के लिए एक कप पानी में धनिया पत्ता उबालें। 1 चम्मच शहद और एक नींबू निचोड़ें। कुछ देर पकने दें और फिर छानकर पी लें। इसमें  ध्यान रखने की आवश्यकता है कि गर्भवती महिलाएं बुखार में धनिया पत्ता की चाय बिल्कुल भी न पिएं, नहीं तो मिसकैरेज हो सकता है। 

इसे भी पढ़े: गर्मियों में आम पना लू और अपच की समस्या से दिलाता है निजात, ऐसे बनाएं इसे

Advertisement