विदेश मंत्री एस जयशंकर ने POK को लेकर दिया बयान, कहा -‘गुलाम कश्मीर एक दिन भारत का हिस्सा होगा’

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि, पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर (पीओके) भारत का हिस्सा है और उम्मीद करते हैं, कि एक दिन भारत के भौतिक अधिकार क्षेत्र में होगा| विदेश मंत्री ने इसके साथ ही यह भी कहा, कि एक सीमा के बाद इस बात की चिंता करने की जरूरत नहीं है कि कश्मीर पर लोग क्या कहेंगे ? क्योंकि यह भारत का आंतरिक मामला है, और अपने आंतरिक मामलों में भारत की स्थिति मजबूत रही है और मजबूत रहेगी| 

इसे भी पढ़े: विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अंतरराष्‍ट्रीय मंच पर गिनाई भारत की उपलब्धिया, कहा – बहुपक्षीय मंचों पर भारत की आवाज सुनी जाने लगी है

वहीं मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में विदेश मंत्री के तौर पर कार्यभार संभालने के बाद अपने पहले संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए विदेश मंत्री ने पाकिस्तान पर निशाना साधा और कहा कि, भारत पड़ोस प्रथम की नीति को आगे बढ़ा रहा है, लेकिन उसके समक्ष एक पड़ोसी की अलग तरह की चुनौती है और यह तब तक चुनौती रहेगी जब तक वह सामान्य व्यवहार नहीं करता और सीमापार आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई नहीं करता|

इसके साथ ही अपने 75 मिनट के संवाददाता सम्मेलन में जयशंकर ने भारत के दूसरे देशों के साथ संबंध, अमेरिका के साथ रणनीतिक संबंधों और चीन के साथ रिश्तों और वैश्विक मंच पर भारत की हैसियत समेत विभिन्न मुद्दों पर बात  रखते हुए कहा कि, विदेश मंत्री ने पाकिस्तान को साफ कर दिया कि मुद्दा अनुच्छेद 370 का नहीं है, बल्कि मुद्दा सीमा पार आतंकवाद का है और किसी तरह की बातचीत के लिये वार्ता की मेज पर पहला विषय आतंकवाद का होगा|’

इसे भी पढ़े: भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे नेपाल, भारत-नेपाल संयुक्त आयोग की बैठक में होंगे शामिल