कैफे कॉफी एंटरप्राइज के संस्थापक वीजी सिद्धार्थ का मिला शव, सोमवार से थे लापता

0
321

संदिग्ध परिस्थितियों में लापता होने के दो दिन बाद कैफे कॉफी डे के संस्थापक वीजी सिद्धार्थ मृत अवस्था में पाए गए हैं, उनका शव बरामद कर लिया गया है। उनका शव मंगलुरू में नेत्रावती नदी के पास होइगे बाजार में बरामद किया गया है। 27 जुलाई को उनके द्वारा लिखित एक पत्र सामने आया था, जिसमें उन्‍होंने अपनी समस्याओं के बारे में बताया था। उन्होंने इस पत्र में कंपनी को हो रहे भारी नुकसान और कर्ज का भी जिक्र किया था, इसके साथ ही आयकर विभाग के पूर्व डीजी के दबाव की बात भी लिखी थी।

Advertisement

ये भी पढ़े: NMC बिल का विरोध : IMA के आह्वान पर बुधवार को देशभर के डॉक्टर रहेंगे हड़ताल पर

दक्षिण कन्नड़ जिले के पुलिस उपायुक्त शशिकांत सेंतिल ने बताया, कि 60 वर्षीय वीजी सिद्धार्थ को आखिरी बार सोमवार शाम दक्षिण कन्नड़ जिले के कोटेपुरा क्षेत्र में नेत्रावती नदी के ऊपर बने पुल पर देखा गया था।

सोमवार की दोपहर सिद्धार्थ बेंगलुरु से हासन जिले के लिए कार से निकले थे। रास्ते में उन्होंने ड्राइवर से मंगलुरु चलने को कहा, नेत्रवती नदी के पुल पर पहुंचने पर कार रुकवा दी और ड्राइवर से कहा, वह टहलने जा रहे हैं, इंतजार करो। दो घंटे बाद भी सिद्धार्थ के नहीं लौटने पर ड्राइवर ने पुलिस से संपर्क किया और लापता होने की रिपोर्ट दर्ज कराई। 

सिद्धार्थ की खोज में नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स, तटरक्षक बल, होमगार्ड, अग्निशमन दल और पुलिस की टीमें सिद्धार्थ को तलाशने में लगी थीं| साथ ही 200 से अधिक पुलिसकर्मी, गोताखोरों के तीन दल 25 नौकाओं से उनकी तलाश कर रहे थे। हेलीकॉप्टर की भी सहायता ली जा रही थी।

ये भी पढ़े: दुनिया के सबसे अधिक प्रभावशाली सीईओ की लिस्ट हुई जारी, मुकेश अंबानी सहित दस भारतीय शामिल

Advertisement