हरतालिका तीज व्रत को लेकर अगर है आप कंफ्यूज 1 या 2 सितंबर को- तो पढ़े यहाँ सारी जानकारी

Hartalika Teej 2019:  हर साल हरतालिका तीज का त्यौहार भाद्र शुक्ल तृतीया तिथि को  पड़ता है लेकिन इस बार इस व्रत को लेकर काफी लोग भर्मित हो गए हैं कि, इस बार  उन्हें किस दिन यह व्रत रखना फलदायक और सम्पूर्ण होगा| बता दें कि,पंचांग की गणना के मुताबिक, तृतीया तिथि का क्षय हो गया है यानी पंचांग में तृतीया तिथि का बिलकुल भी मान नहीं है, इसलिए यदि आप भी हरतालिका तीज व्रत को लेकर कंफ्यूज है, तो यहाँ पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते है|

इसे भी पढ़े: Hartalika Teej 2019 : हरियाली तीज व्रत शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और व्रत के नियम

जानकारी देते हुए बता दें कि, रविवार 1 सितंबर को सूर्योदय द्वितीया तिथि में होगा, जो 8 बजकर 27 मिनट तक रहने के बाद समाप्त हो जाएगी। इसके बाद से तृतीया यानी हरियाली तीज का प्रारम्भ हो जाएगा और अगले दिन यानी 2 सितंबर को सूर्योदय से पूर्व ही सुबह 4 बजकर 57 मिनट पर तृतीया समाप्त हो जाएगी| इसके बाद चतुर्थी शुरू हो जाएगी|

वहीं दूसरी तरफ हरतालिका तीज को लेकर ज्योतिषशास्त्री और पंचांग के जानकर भी भ्रमित है, एक मत के मुताबिक, हरतालिका तीज का व्रत 1 सितंबर को करना शास्त्र सम्मत होगा क्योंकि यह व्रत हस्त नक्षत्र में किया जाता है, जो एक सितंबर को है। 1 सितंबर को पूरे दिन तृतीया तिथि होगी। संध्या पूजन के समय भी तृतीया तिथि रहेगी जिससे व्रत के लिए 1 सितंबर का दिन ही सब प्रकार से उचित है। 2 तारीख को सूर्योदय चतुर्थी तिथि में होने से इस दिन चतुर्थी तिथि का मान रहेगा ऐसे में तृतीया तिथि का व्रत मान्य नहीं होगा।”

2 सितंबर को हरतालिका तीज को उचित मानने वाले विद्वानों का तर्क करते हुए बताया है कि, शास्त्रों में चतुर्थी तिथि व्याप्त तृतीया तिथि को सौभाग्य वृद्धि कारक माना गया है।  इसी के साथ बताया कि, ग्रहलाघव पद्धति से बने पंचांग के अनुसार 8 बजकर 58 मिनट तक तृतीया तिथि रहेगी। इसके बाद चतुर्थी तिथि हो जाएगी। हरतालिका व्रत में एक नियम यह भी है कि हस्त नक्षत्र में व्रत करके चित्रा नक्षत्र में व्रत का पारण करना चाहिए। इस लिहाज से 2 सितंबर को तीज का व्रत रखना उचित और सौभाग्य वृद्धि कारक होगा। इन स्थितियों इस साल 2 दिन हरतालिका तीज का व्रत रखा जा सकता है|”

हरतालिका तीज का व्रत पूजन और मुहूर्त

1.जो लोग 1 सितंबर को हरतालिका तीज का व्रत  करेंगे उनके लिए पूजन का शुभ मुहूर्त शाम में 6 बजकर 15 मिनट से 8 बजकर 58 मिनट तक रहेगा|

2.जो लोग 2 सितंबर को व्रत करेंगे वो  सूर्योदय से 2 घंटे के अंदर ही तीज का पूजन कर लें क्योंकि इनके पूजन का शुभ मुहूर्त सुबह 8 बजकर 58 मिनट तक  ही रहेगा|

इसे भी पढ़े: इस बार हरतालिका तीज पर महिलाएं लगाए ये नए खूबसूरत मेहंदी डिजाइन